Type to search

पटाखे जलाने वालों पर कानूनी कार्रवाई के लिए 15 टीमें तैनात

जरुर पढ़ें देश

पटाखे जलाने वालों पर कानूनी कार्रवाई के लिए 15 टीमें तैनात

Share

दिवाली और अन्य त्योहारों के मद्देनजर दिल्ली हाईकोर्ट ने सोमवार को दिल्ली सरकार और पुलिस को बजारों में हो रही भीड़ को नियंत्रित करने के लिए कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए बनाए गए नियमों को सख्ती से पालन सुनिश्चित करने का आदेश दिया है. न्यायालय ने कहा है कि कोरोना प्रोटोकॉल के उल्लंघन होने पर जुर्माना लगाने के बजाए सरकार और पुलिस को नियमों की अनदेखी न हो, यह सुनिश्चित करने के लिए कदम उठाने चाहिए.

उधर दिल्ली सरकार 27 अक्तूबर यानी बुधवार से ‘पटाखे नहीं-दीये जलाओ’ अभियान की शुरुआत करेगी. अभियान के जरिए लोगों को दीया जलाकर दीवाली मनाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा. वहीं दूसरी ओर पटाखों की खरीद-बिक्री, उनके भंडारण और पटाखे जलाने की रोकथाम के लिए दिल्ली भर में 150 से ज्यादा सदस्यों वाली 15 टीमों की तैनाती की जाएगी.

पटाखों की रोकथाम का जिम्मा दिल्ली पुलिस के 15 जिलों में गठित 15 टीमों पर रहेगा. एक-एक टीम में पांच से सात सदस्य होंगे जो जिला स्तर पर अभियान का नेतृत्व करेंगे. इसके अलावा, दिल्ली के 157 थाना स्तर पर भी दो-दो लोगों की टीम बनाई जाएगी. थाना स्तर पर पटाखों की खरीद-बिक्री और फोड़ने की जांच की जाएगी. वहीं जिला स्तरीय टीमें उन स्थानों पर पेट्रोलिंग करेगी, जहां पर पहले पटाखे बिकते थे.

पर्यावरण मंत्री सत्येंद्र जैन ने पटाखों पर पाबंदी लगाने में आम लोगों से भी सहयोग मांगा है. उन्होंने कहा कि दिल्ली के अंदर कहीं भी पटाखे की खरीद-बिक्री या जलाने की घटना सामने आती है तो दिल्ली पुलिस को 112 नंबर पर फोन करके इसकी जानकारी दी जा सकती है. इसके आधार पर पुलिस कार्रवाई करेगी. अगर कोई नहीं मानता है तो पुलिस और एसडीएम की तरफ से आईपीसी की धारा 188 और 286 के तहत कार्रवाई की जाएगी. साथ-साथ एक्प्लोसिव एक्ट 5/9बी के तहत भी कार्रवाई की जाएगी.

पटाखों की खरीद-बिक्री, उनके भंडारण और पटाखे जलाने की रोकथाम के लिए दिल्ली भर में 150 से ज्यादा सदस्यों वाली 15 टीमों की तैनाती की जाएगी. यह टीमें दिल्ली के अलग-अलग हिस्सों में अभियान के तहत कार्रवाई करेंगी. नियमों का उल्लंघन मिलने पर पुलिस और एसडीएम की ओर से आईपीसी की संबंधित धारा के तहत कार्रवाई की जाएगी. दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने सोमवार को दिल्ली पुलिस और पर्यावरण विभाग के अधिकारियों के साथ संयुक्त बैठक की.

इस बैठक में दिल्ली में बुधवार से पटाखे नहीं दीये जलाओ अभियान की शुरुआत करने का फैसला किया गया. इस अभियान के जरिए लोगों को पटाखे जलाने से रोका जाएगा और दीये जलाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा. बैठक के बाद आयोजित पत्रकार वार्ता में पर्यावरण मंत्री ने बताया कि दिल्ली पुलिस के सभी 15 जिलों में 15 केंद्रीय टीम बनाई जाएंगी, जिसमें करीब 157 सदस्य होंगे. पुलिस के साथ-साथ 33 एसडीएम के नेतृत्व में भी टीमों का गठन किया जाएगा.

15 teams deployed for legal action against firecrackers

Share This :
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *