Type to search

आज से चलाई जाएगी 392 स्पेशल ट्रेन, जानें नियम व किराया

देश

आज से चलाई जाएगी 392 स्पेशल ट्रेन, जानें नियम व किराया

Share
train

भारतीय रेलवे हर बड़े त्यौहारों में कुछ खास स्पेशल ट्रेनें चलती है। हालांकि इस पर स्थिति सामान्य नहीं है। इस बार पुरे देश में कोरोना है। देश पिछले 6 महीने से बंद है। जरूरत मंद लोग ही सफर कर रहे है। बाकि ज्यादातर लोग अपने-अपने घर में ही है। इस बीच अब दुर्गा पूजा, दिवाली, छठ आदि नजदीक है। ऐसे में सभी लोग अपने-अपने घर जाने वाले है। इसी खास मकसद से सरकार आज से 392 विशेष ट्रेनें चला रही है। ये सभी फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनें है।

30 फीसदी ज्‍यादा किराया –
ये फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनें कोलकाता, पटना, वाराणसी, लखनऊ और दिल्‍ली से चलेंगी ताकि दुर्गा पूजा, दशहरा, दिवाली, छठ पूजा पर यात्रियों की जबरदत मांग को पूरा किया जा सके। रेलवे इन फेस्टिवल स्‍पेशल ट्रेनों में सामान्‍य से ज्‍यादा किराया वसूलेगा। फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों का किराया आम ट्रेनों के मुकाबले 30 फीसदी ज्‍यादा होगा।

नियम तोड़ने पर जेल –  
रेलवे ने सख्‍त यात्रा नियम जारी किए हैं। साथ ही हिदायत दी है कि इन निमयों को तोड़ने पर जेल जाना पड़ सकता है। रेलवे ने साफ किया है कि मास्क नहीं पहनने, कोविड-19 से जुड़े प्रोटोकॉल का पालन नहीं करने और कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद भी सफर करने वालों रेल अधिनियम की विभिन्‍न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया जाएगा। नियम तोड़ने पर यात्री को कैद के साथ जुर्माना भी लगाया जा सकता है।

नियम –
– स्टेशन पर एंट्री केवल कन्फर्म टिकट के जरिए हो सकती है।
– यात्रियों को यात्रा के समय से लगभग 90 मिनट पहले स्टेशन पर पहुंचना होता है, ताकि थर्मल स्क्रीनिंग की प्रक्रिया को आसानी से पूरा किया जा सके।
– यात्रा करने के लिए सभी यात्रियों का आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करना आवश्यक है।
– यात्रा के दौरान रेलवे द्वारा कंबल और चादर उपलब्ध नहीं कराए जाएंगे।
– ट्रेन में चढ़ते समय और यात्रा के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना आवश्यक होगा।
– रेलवे स्टेशन पर सभी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग होगी और केवल उन यात्रियों को ट्रेन में एंट्री मिलेगी, जिनमें कोई लक्षण नहीं दिखेंगे।
– सफर के दौरान मास्क पहनना जरूरी होगा

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *