Type to search

महाराष्ट्र में अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए 7 दिन का क्वारंटाइन अनिवार्य, 3 बार होगा RT-PCR टेस्ट

कोरोना देश

महाराष्ट्र में अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए 7 दिन का क्वारंटाइन अनिवार्य, 3 बार होगा RT-PCR टेस्ट

Share
quarantine mandatory

ओमाइक्रोन के खतरे से बचने के लिए महाराष्ट्र स्टेट डिज़ास्टर मैनेजमेंट ने मंगलवार रात कहा कि उच्च जोखिम वाले देशों से राज्य में आने वाले पर्यटकों को 7-8 दिनों के लिए संस्थागत क्वारंटाइन से गुजरना होगा।

तीन बार RT-PCR टेस्ट भी होंगे
केंद्र सरकार ने जोखिम वाले देशों की सूची जारी की है। अद्यतन सूची के अनुसार, जोखिम वाले देश यूरोपीय देश, ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बोत्सवाना, चीन, मॉरीशस, न्यूजीलैंड, जिम्बाब्वे, सिंगापुर, हांगकांग और इज़राइल हैं। अधिकारियों के निर्देशानुसार राज्य में ऐसे पर्यटकों के आने के दूसरे, चौथे और सातवें दिन भी आरटी-पीसीआर जांच की जाएगी।

संक्रमित पाए जाने पर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा
उन्होंने कहा कि अगर कोई पर्यटक संक्रमित पाया जाता है तो उसे अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा। अगर उसकी रिपोर्ट निगेटिव आती है तो भी उसे 7 दिन होम क्वारंटाइन में रहना होगा। राज्य सरकार ने कहा है कि ओमाइक्रोन के मद्देनजर केंद्र द्वारा 28 नवंबर को ट्रेवल अडवाइज़री “न्यूनतम प्रतिबंध” के रूप में कार्य करेगा।

महाराष्ट्र पहुंचे 6 पर्यटक पाए गए कोरोना संक्रमित
दक्षिण अफ्रीका और अन्य उच्च जोखिम वाले देशों से महाराष्ट्र पहुंचे छह पर्यटक कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं और उनके नमूने जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजे गए हैं। यह जानकारी महाराष्ट्र स्वास्थ्य विभाग ने SARS COV2 के नए संस्करण Omicron की वजह से बढ़ रही चिंताओं के बीच दी।

स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि वर्तमान में छह पर्यटक हैं जो दक्षिण अफ्रीका या अन्य उच्च जोखिम वाले देशों से राज्य में आए हैं। जो जांच में संक्रमित पाए गए हैं। इन सभी के सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजे गए हैं और इनके संपर्क में आए लोगों की तलाश की जा रही है। हालांकि ये सभी पर्यटक कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं। लेकिन ये सभी या तो बिना लक्षण वाले हैं या हल्के लक्षण हैं।

7-day quarantine mandatory for international travelers in Maharashtra, RT-PCR test will be done 3 times

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *