Type to search

Cyclone Gulab के बाद अब Cyclone Shaheen का खतरा, पश्चिमी तट पर आ सकता है तूफान

देश बड़ी खबर

Cyclone Gulab के बाद अब Cyclone Shaheen का खतरा, पश्चिमी तट पर आ सकता है तूफान

Share

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने कहा कि चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’ कमजोर होकर डिप्रेशन में बदल गया है. मौसम अधिकारियों के अनुसार, बंगाल की खाड़ी में उत्पन्न चक्रवात गुलाब 2-3 दिनों में चक्रवात ‘शाहीन’ के रूप में फिर से पैदा हो सकता है. आईएमडी के अधिकारियों ने कहा, चक्रवात गुलाब ने सोमवार को आंध्र प्रदेश में दस्तक दी थी.

अब मंगलवार को यह एक डीप डिप्रेशन में तब्‍दील होकर कमजोर हो सकता है. लेकिन हफ्ते के आखिर तक यह एक नए चक्रवात में बदल सकता है. इसके कारण कई राज्‍यों में भारी बारिश हो सकती है. चक्रवाती तूफान के गुरुवार के आसपास पूर्वोत्तर में अरब सागर और गुजरात तट पर फिर से उभरने की आशंका जताई गई है. अधिकारियों ने कहा कि यह प्रक्रिया संभवत: शुक्रवार को तेज हो सकती है, जिससे क्षेत्र में चक्रवात शाहीन उत्‍पन्‍न हो सकता है.’शाहीन’ नाम कतर द्वारा दिया गया है. ‘शाहीन’ शब्द का अर्थ ‘शाही सफेद बाज’ या हॉक (गरुड़) है.

आईएमडी में चक्रवातों की प्रभारी सुनीता देवी ने बताया, “हालांकि संभावना कम है, फिर भी हम इसके चक्रवात में तेज होने की संभावना से इंकार नहीं कर सकते हैं. निम्न दबाव का क्षेत्र (गुलाब के अवशेष) मध्य भारत में पश्चिम की ओर बढ़ जाएगा, जिससे इस क्षेत्र में बहुत अधिक बारिश होगी. यह कम दबाव वाले सिस्टम के रूप में महाराष्ट्र और गुजरात को पार करेगा. आईएमडी ने कहा कि म्यांमार तट से दूर बंगाल की खाड़ी में एक और चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र दिखाई दे रहा है, जिसके कारण अगले 12 घंटों के दौरान पश्चिम बंगाल से सटे बंगाल की उत्तर-पश्चिमी खाड़ी और उससे सटे बांग्लादेश के तटों पर एक कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है.

चक्रवात गुलाब के बाद अगले पांच चक्रवात जो बंगाल की खाड़ी और अरब सागर सहित उत्तर हिंद महासागर में होंगे, वे हैं चक्रवात शाहीन, चक्रवात जवाद, चक्रवात आसनी, चक्रवात सितारंग और चक्रवात मंडस.

After Cyclone Gulab, now there is danger of Cyclone Shaheen, storm may hit the west coast

Share This :
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *