Type to search

अखिलेश ने भाजपा पर लगाया प्रदेश में षड़यंत्र रचने का आरोप

जरुर पढ़ें देश राजनीति

अखिलेश ने भाजपा पर लगाया प्रदेश में षड़यंत्र रचने का आरोप

Share

नई दिल्ली – उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के साथ ही राजनीतिक दलों के बीच सियासी बहसबाजी, आरोप-प्रत्यारोप का दौर तेज हो गया है। समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने आरोप लगाया हैकि भारतीय जनता पार्टी गुजरात और अन्य राज्यों से प्रदेश में लोगों को ला रही है और षड़यंत्र रच रही है।

अखिलेश यादव ने यह भी कहा कि वह चुनाव आयोग से इसकी लिखित शिकायत करेंगे। दरअसल योगी सरकार में मंत्री दारा सिंह चौहान ने भाजपा का दामन छोड़ सपा का हाथ थाम लिया है। वहीं अपना दल के विधायक आरके वर्मा भी सपा में शामिल हो गए हैं। दोनों के सपा में शामिल होने के दौरान मीडिया को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने भाजपा पर यूपी में षड़यंत्र रचने का आरोप लगाया।

भाजपा छोड़ सपा में शामिल होने वाले दारा सिंह चौधरी ने कहा कि भाजपा सबका साथ, सबका विकास का नारा देती है लेकिन ये लोग साथ तो सबका लेते हैं लेकिन विकास कुछ ही लोगों का होता है। दारा सिंह और आरके वर्मा का सपा में स्वागत करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सिर्फ बांटने की राजनीति कर रही है, जबकि सपा विकास के लिए काम कर रही है। दारा सिंह का जिक्र करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि इटावा में लॉयन सफारी के लिए योगी आदित्यनाथ कुछ खास रुचि नहीं ले रहे थे। एक के बाद दूसरे डायरेक्टर को ट्रांसफर किया जाता था ताकि लॉयन सफारी का उद्घाटन टाला जा सके।

अखिलेश यादव ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि ये लोग गुजरात, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ से लोगों को यूपी में लेकर आ रहे हैं। इस तरह की रिपोर्ट सामने आई है, वीडियो भी सामने आए हैं सोशल मीडिया पर जिसमे देखा जा सकता है कि गुजरात से भाजपा कार्यकर्ताओं को यूपी लाया जा रहा है। इन लोगों को चुनाव संबंधित कामों की ट्रेनिंग दी गई है।

अखिलेश यादव ने कहा कि वह चुनाव आयोग से इसकी शिकायत करेंगे और मांग करेंगे कि चुनाव आयोग इन लोगों को वापस इनके प्रदेश भेजे क्योंकि यह कोरोना प्रोटोकॉल का उल्लंघन हैं, दूसरे राज्यों से लोगों को अन्य राज्य नहीं जाने की इजाजत नहीं है। अखिलेश ने कहा कि इन लोगों को ट्रेनिंग दी गई है। ये लोग षड़यंत्र करेंगे, अफवाह फैलाएंगे। चुनाव आयोग को मेरी शिकायत का संज्ञान लेना चाहिए और इन लोगों को तुरंत वापस भेजना चाहिए। अगर चुनाव आयोग यह नहीं करता है तो इससे साफ है कि चुनाव आयोग निष्पक्ष तरह से काम नहीं कर रहा है।

Akhilesh accuses BJP of conspiring in the state

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *