Type to search

धर्मांतरण केस में बड़ी कार्रवाई, कलीम सिद्दीकी गिरफ्तार

देश बड़ी खबर

धर्मांतरण केस में बड़ी कार्रवाई, कलीम सिद्दीकी गिरफ्तार

Share

मशहूर इस्लामिक स्कॉलर मौलाना कलीम सिद्दीकी की गिरफ्तारी के बारे में यूपी पुलिस ने साफ किया है कि सबूतों के आधार पर ही गिरफ्तारी की गई है। जांच एजेंसियों के साथ पुख्ता सबूत हैं कि वो धर्मांतरण को बढ़ावा दे रहे थे। यूपी के एडीजी एल एंड ओ प्रशांत कुमार ने कहा कि इस बात के पुख्ता सबूत हैं कि हवाला के माध्यम से धर्मांतरण के लिए फंडिंग की जा रही थी और पूरे खेल में मौलाना कलीम सिद्दीकी की संलिप्तता थी। बता दें कि Times Now नवभारत से इस संबंध में स्टिंग ऑपरेशन किया था जिसमें सनसनीखेज जानकारियां सामने आई थीं।

कलीम सिद्दीकी और साथ तीन मौलानाओं और ड्राइवर को यूपी एटीएस ने पूछताछ के लिए उठाया था। कलीम सिद्दीकी की गतिविधियां शक के दायरे में थीं। देर रात मौलाना के समर्थन में उलमाओं समेत मुस्लिम समुदाय के लोगों की लिसाड़ीगेट थाने में भीड़ लग गई और हंगामा किया।मुजफ्फरनगर के फुलत गांव निवासी मौलाना कलीम सिद्दीकी (64 वर्ष) मंगलवार शाम सात बजे साथी मौलानाओं के साथ लिसाड़ीगेट के हूमायुंनगर में मस्जिद माशाउल्लाह के इमाम शारिक के आवास पर एक कार्यक्रम में आए थे।

रात नौ बजे इशा की नमाज के बाद वह अपने साथियों के साथ गाड़ी से वापस फुलत के लिए रवाना हो गए। इस दौरान परिजनों ने उन्हें कॉल की लेकिन मोबाइल बंद मिला। परिजनों ने जानकारी मेरठ में इमाम शारिक को दी। परिजनों और परिचितों ने तलाश शुरू की, लेकिन जानकारी नहीं मिली। इसके बाद लोगों की भीड़ लिसाड़ीगेट थाने पर जुट गई। देर रात तक हंगामा चलता रहा। हालांकि पुलिस ने उन्हें उठाने की आधिकारिक पुष्टि नहीं की है।आम आदमी पार्टी विधायक अमानतुल्लाह खान ने इसे सियासी बताया। उन्होंने कहा कि यूपी विधानसभा चुनाव से पहले इस तरह की कार्रवाई देखने और सुनने को मिलेगी।

संदिग्ध गतिविधि के चलते इस्लामिक विद्वान मौलाना कलीम सिद्दीकी सुरक्षा एजेंसी ने निशाने पर थे। मौलाना के मेरठ आने की जानकारी एजेंसी को पहले से थी। यही वजह है कि एजेंसी ने वापसी के दौरान उन्हें पकड़ लिया। उनसे पूछताछ की जा रही है।फुलत के मौलाना कलीम सिद्दीकी का इस्लामिक विद्वानों में नाम है। वह फुलत के मदरसा जामिया इमाम वलीउल्लाह इस्लामिया के निदेशक भी हैं। 7 सितंबर को मुंबई में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के द्वारा आयोजित राष्ट्र प्रथम और राष्ट्र सर्वोपरि कार्यक्रम में भी मौलाना कलीम शामिल हुए थे।

Big action in conversion case, Kaleem Siddiqui arrested

Share This :
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *