Type to search

क्रिकेट के नियमों में बड़ा बदलाव, ऐसे करने बल्लेबाज हो जायेंगे Out

खेल जरुर पढ़ें देश

क्रिकेट के नियमों में बड़ा बदलाव, ऐसे करने बल्लेबाज हो जायेंगे Out

Share

मुंबई – क्रिकेट का खेल भी वक्त के साथ-साथ लगातार बदलता जा रहा है. खेल को और रोमांचक बनाने के लिए क्रिकेट के नियमों में भी आए दिन बदलाव देखने को मिल रहे हैं. क्रिकेट के नियम तय करने का काम एमसीसी (मेलबर्न क्रिकेट क्‍लब) का होता है. एमसीसी ने बुधवार को क्रिकेट में कुछ नए कानून लाने का फैसला किया है.

कुछ ऐसे नियम जो खेल को और रोमांचक बना देंगे. इस बार मांकडिंग के नियम में भी बदलाव हुआ है. एमसीसी ने इस बार मांकडिंग के कानून में बड़ा बदलाव करने का फैसला लिया है. मांकडिंग का कानून हमेशा विवादों से घिरा रहा है, लेकिन ये एक क्रिकेट का हिस्सा है जो आगे भी रहेगा. अभी तक मांकडिंग को लॉ 41 अनफेयर प्ले यानि खेलभावना के खिलाफ माना जाता था. किसी गेंदबाज द्वारा मांकडिंग करने पर उस गेंदबाज को आलोचना का सामना भी करना पड़ता था, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा. मांकडिंग के लॉ को अब लॉ 41 (अनफेयर प्ले) से बदल कर लॉ 38 कर दिया गया है. यानि अब मांकडिंग को रनआउट के तहत रखा जाएगा और इसे खेलभावना के खिलाफ नहीं माना जाएगा.

मांकडिंग का नियम मेलबर्न क्रिकेट क्लब के द्वारा बनाए गए हैं इन नियम के अनुसार अगर नॉन स्ट्राइकर बल्लेबाज गेंद फेंकने से पहले ही अपना क्रिज छोड़ देता है यानी जब गेंदबाज सामान्‍य रूप से गेंद रिलीज करने वाला होता है उससे पहले बल्लेबाज क्रिज के बाहर निकल जाता है तो गेंदबाज उसे रन आउट कर सकता है, लेकिन गेंदबाज रन आउट करने में असफल रहता है तो अंपायर को डेड बॉल की घोषणा करनी होती है.

भारतीय स्पिनर रविचंद्रन अश्विन का मांकडिंग से पुराना नाता रहा हैं. अश्विन हमेशा मांकडिंग के पक्ष में रहे हैं. IPL 2019 में रविचंद्रन अश्विन ने जॉस बटलर को माकंडिंग से आउट कर विवाद को जन्‍म दे दिया. उस समय इस मुद्दे पर काफी लंबी बहस चली थी लेकिन अब एमसीसी ने इस नियम को बदल के कहीं ना कहीं सब साफ कर दिया है. ऐसा पहली बार नहीं हुआ था जब अश्विन ने बल्‍लेबाज को रन-आउट करने के लिए मांकडिंग का सहारा लिया हो. इससे पहले 2012 में ऑस्‍ट्रेलिया में अश्विन ने श्रीलंका के लाहिरु थिरिमाने को भी इसी तरह रन-आउट किया था. हालांकि कप्‍तानी कर रहे वीरेंद्र सहवाग ने अपील वापस ले ली.

इन नियमों में भी हुआ बदलाव –

  • एमसीसी ने बल्लेबाजों के लिए भी एक नियम बदला है. नए नियम के मुताबिक किसी भी खिलाड़ी के आउट हो जाने के बाद आने वाला नया बल्लेबाज स्ट्राइक लेगा भले ही इससे पहले पिछले बल्लेबाजों ने आउट होने से पहले जगहें बदल ली हो. एमसीसी ने अब क्रिकेट में गेंद को चमकाने के लिए थूक के इस्तेमाल पर भी बैन लगा दिया है. पहले इसे केवल कोविड19 की वजह से लागू किया गया था लेकिन अब एमसीसी इसे कानून बना रही हैं.
  • अब अगर मैदान पर मैच के दौरान कोई दर्शक या फिर कोई एनिमल आता है, तब उसे डेड बॉल घोषित कर दिया जाएगा. MCC के Law 20.4.2.12 नियम को अब बदला गया है.
  • नियम में बताया गया है कि अगर कोई भी पिच इनवेडर या डॉग फील्ड पर आ जाता है या किसी तरह का बाहरी दखल होता है, जिसका किसी भी तरह से गेम पर असर पड़ रहा हो. उसे अंपायर्स द्वारा डेड बॉल घोषित कर दिया जाएगा.
  • साथ ही अब मांकड़िंग करना यानी बॉलर द्वारा बॉल फेंकने से पहले ही बल्लेबाज को रन आउट करने का ऑप्शन रहेगा और इसे स्पिरिट ऑफ क्रिकेट के खिलाफ नहीं माना जाएगा. इसके अलावा वाइड और डेड बॉल को लेकर भी नियम बदल दिए गए हैं.

    Big change in the rules of cricket, batsmen will be out for doing this
Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *