Type to search

घटिया स्वास्थ्य व्यवस्था में बिहार अव्वल! तेजस्वी ने ट्विटर पर दिखाया स्वास्थ्य मंत्री का हाल

जरुर पढ़ें देश

घटिया स्वास्थ्य व्यवस्था में बिहार अव्वल! तेजस्वी ने ट्विटर पर दिखाया स्वास्थ्य मंत्री का हाल

Share

बिहार सरकार और राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडये के दावों का पोल नीति आयोग ने खोल दी। नीति आयोग की रिपोर्ट के मुताबिक, देशभर में बिहार के अस्पतालों की बदतर हालत है। आंकड़ों के मुताबिक, राज्य में एक लाख की आबादी पर मात्र 6 ही बेड हैं। 36 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की लिस्ट में बिहार सबसे निचले पायदान पर है।

नीति आयोग की रिपोर्ट को लेकर जब राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय से सवाल किया गया तो वो सवालों से बचकर भागते नजर आए। राजद नेता तेजस्वी यादव ने भी मंगल पांडेय ने वीडियो पोस्ट करते हुए मंगल पांडेय पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि मंगल पांडेय के 16 साल के कार्यकाल में हर साल हजारों लोग इलाज के अभाव में मरते हैं।

बिहार में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर लिखा, “बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय नीति आयोग की रिपोर्ट में संपूर्ण देश में बिहार की स्वास्थ्य व्यवस्था के सबसे फिसड्डी होने के सवाल पर मीडिया से मुंह छिपा कर भागते हुए। 16 वर्षों के इनके कार्यकाल में चमकी बुख़ार, कोरोना व इलाज के अभाव में प्रतिवर्ष हज़ारों लोग मरते हैं।”

‘जिला अस्पतालों के कामकाज में बेहतर गतिविधियों’ पर नीति आयोग की ओर से रिपोर्ट पेश की गई है। इसको स्वास्थ्य परिवार कल्याण मंत्रालय और डब्ल्यूएचओ इंडिया ने मिलकर तैयार किया है। रिपोर्ट के मुताबिक भारत में जिला अस्पतालों में प्रति एक लाख आबादी पर औसतन 24 बेड है। इसमें पुडुचेरी में जिला अस्पतालों में सबसे ज्यादा औसतन 222 बिस्तरें उपलब्ध है। जबकि बिहार में यह आंकड़ा मात्र 6 बेड का है।

Bihar tops in poor health system! Tejashwi showed the health minister’s condition on Twitter

Share This :
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *