Type to search

क्या दुबारा हो सकता है कोरोना का इन्फेक्शन?

कोरोना देश

क्या दुबारा हो सकता है कोरोना का इन्फेक्शन?

Share

इन दिनों लगातार ऐसे मामले सामने आ रहे हैं, जिसमें कोरोना का इलाज कराकर लौटने के बाद फिर से मरीज में संक्रमण के लक्षण दिखने लगे। ऐसे मामले में लोग अक्सर इसे जांच में गड़बड़ी मान लेते हैं और लापरवाही बरतते हैं। लेकिन सवाल ये है कि क्या एक बार संक्रमित होने के बाद किसी शख्स को दुबारा संक्रमण हो सकता है?

विशेषज्ञों की मानें तो वायरस के इन्फेक्शन में दुबारा संक्रमित होने की संभावना हमेशा होती है। खास तौर पर जब संक्रमण मामूली (sub-clinical) हो और लक्षण दिखाई ना पड़ रहे हों। इसके अलावा दुबारा संक्रमण की संभावना उस वक्त बनती है, जब शुरुआती इन्फेक्शन हो, और शरीर में उससे लड़ने के लिए एंटी-बॉडीज विकसित नहीं हुए हों। ये वक्त कुछ दिनों से लेकर कुछ महीनों तक का भी हो सकता है, क्योंकि यह समय आपके शरीर की प्रतिरोधक क्षमता पर निर्भर करता है।

दूसरे मामले में कोरोना मरीज के ठीक होकर आने के बावजूद, शरीर के कमजोर होने की वजह से वायरस का संक्रमण फिर से हो सकता है, क्योंकि कमजोर शरीर उचित मात्रा में एंटीबॉडीज नहीं बना पाता। ऐसे में ध्यान रखें कि जब तक आपके शरीर की प्रतिरोधक क्षमता सामान्य नहीं होती, तब तक आपके शरीर में कोरोना ही नहीं, दूसरे वायरस जैसे – फ्लू आदि, का संक्रमण भी हो सकता है। इसलिए दुबारा किसी तरह के संक्रमण से बचने के लिए कोरोना से रिकवरी के बाद भी कुछ महीनों तक संभल कर रहना चाहिए।

कोरोना वायरस के संक्रमण के बाद अभी बड़ी संख्या में ऐसे लोग हैं, जो ठीक होकर वापस लौटे हैं। इनकी बॉडी से सीरम सैंपल लेने के बाद पता लगाया जा रहा है कि एंटी-बॉडीज बनने में कितना वक्त लगा और जब ये बनने शुरु हुए, तो पूरे शरीर से कोरोना के वायरस को खत्म करने में कितना समय लगा। इस बारे में रिसर्च जारी है और जल्द ही इस बात का खुलासा हो जाएगा कि संक्रमण मुक्त होने में शरीर को कितना वक्त लगता है। फिलहाल ये सारी बातें अभी तक हुए शोध और विश्लेषण पर आधारित है और इस दिशा में काफी काम बाकी है।

(जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के वेबसाइट से साभार)

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *