Type to search

गणतंत्र दिवस पर कार बम धमाके की आशंका

जरुर पढ़ें देश

गणतंत्र दिवस पर कार बम धमाके की आशंका

Share

गणतंत्र दिवस को लेकर शहर में सुरक्षा की दृष्टि को देखते हुए पुलिस पैनी नजर बनाए हुए हैं. आतंकी हमले का खुफिया अलर्ट होने के बाद दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने राजधानी को 20 जनवरी से एंटी ड्रोन क्षेत्र घोषित किया है. इसके तहत दिल्ली में ड्रोन, पैरा ग्लाइडर, यूएवी, छोटा माइक्रो एयरक्राफ्ट, एयर बैलून पर पाबंदी रहेगी.

दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना ने कहा दिल्ली में एंटी ड्रोन (Drone) व्यवस्था 15 फरवरी तक लागू रहेगी. दरअसल ड्रोन हमले की आशंका के मद्देनजर पुलिस ने सावधानी बरतते हुए हवा में उड़ने वाली चीजों पर रोक लगाने का आदेश दिया है.पुलिस आयुक्त ने बताया कि एंटी ड्रोन क्षेत्र की व्यवस्था 20 जनवरी से लागू की जाएगी. राजधानी की सुरक्षा को देखते इस अवधि में पैरा-ग्लाइडर, पैरा-मोटर्स, हैंग ग्लाइडर, यूएवी, यूएएस, माइक्रोलाइट एयरक्राफ्ट, रिमोट से चलने वाले विमान, हॉट एयर बैलून, छोटे आकार के बैटरी से चलने वाले एयरक्राफ्ट, क्वाडॉप्टर्स और पैरा जंपिंग उड़ान पर प्रतिबंध लागू रहेगा.

दिल्ली पुलिस की स्वॉट टीम के सक्रिय रहने के साथ ही बॉर्डर क्षेत्र पर गश्त के साथ जांच बढ़ाए जाने के निर्देश दिए गए हैं. वहीं इंडिया गेट और भीड़-भाड़ वाले इलाकों में भी सुरक्षा बढ़ाई गई है. मोबाइल पुलिस कंट्रोल रूम वैन का भी सुरक्षा व्यवस्था में प्रयोग किया जाएगा. संदिग्धों की पहचान कर तत्काल कार्रवाई की जाएगी.

गाजीपुर मंडी में आईईडी मिलने के बाद अब इंटेलीजेंस ब्यूरो (आईबी) ने दिल्ली पुलिस को गणतंत्र दिवस पर आतंकी हमले की आशंका के इनपुट दिए हैं. नेताओं समेत कुछ वीआईपी को भी निशाना बनाने के संकेत हैं. संगठन कार में विस्फोटक रखकर इंडिया गेट और लालकिले के आसपास हमला कर सकते हैं. इनपुट में यह भी है कि सिख फॉर जस्टिस पिछले साल की तरह इस बार भी लालकिले पर धार्मिक झंडा फहराने की घटना की पुनरावृत्ति कर सकता है.

आईबी का दावा है, आतंकी पाकिस्तान से विस्फोटक भारत ला चुके हैं. गाजीपुर मंडी में मिली आईईडी उसी का हिस्सा था. जिस तरह जम्मू एयरपोर्ट पर ड्रोन से हमला किया गया था, उसी तर्ज पर आतंकी ड्रोन से भी हमला कर सकते हैं.

Car bomb blast on Republic Day

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *