Type to search

मंकीपॉक्स के बीच अब टोमैटो फ्लू के बढ़ने लगे मामले

जरुर पढ़ें देश

मंकीपॉक्स के बीच अब टोमैटो फ्लू के बढ़ने लगे मामले

Share

नई दिल्ली – मंकीपॉक्स के खतरे के बीच टोमैटो फ्लू के मामलों में इजाफा हो रहा है. मेडिकल जर्नल द लैंसेट की रिपोर्ट के मुताबिक, केरल में टोमैटो फ्लू के 82 केस दर्ज किए जा चुके हैं. ओडिशा में भी फ्लू के मामले आ रहे हैं. अन्य फ्लू की तरह टोमैटो फ्लू भी एक संक्रामक बीमारी है. इसके अधिकतर केस 5 से कम उम्र के बच्चों में आ रहे हैं.

ये फ्लू क्यों फैल रहा है. इसके बारे में कोई प्रमाण नहीं है. हालांकि कुछ डॉक्टर इसे चिकनगुनिया के वायरस के जैसा बता रहे हैं. छपी रिपोर्ट के बाद यह आशंका जताई जा रही है कि ये फ्लू नया है और जो खतरनाक हो सकता है, हालांकि एक्सपर्ट्स ने का कहना है कि टोमैटो फ्लू नया नहीं है. केरल में ही मई से इसके मामले रिपोर्ट किए जा रहे हैं. इस फ्लू से मौत का भी कोई केस दर्ज नहीं किया गया है. केरल तमिलनाडु और ओडिशा के अलावा अन्य किसी राज्य में इसके केस नहीं आए हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी इसको लेकर कोई बयान जारी नहीं किया है.

नई दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के पीडियाट्रिक्स डिपार्टमेंट के पूर्व डॉ. प्रवीण कुमार सिंघल बताते हैं कि बच्चों में फ्लू की बीमारी काफी आम है. अब फ्लू के लक्षण में एक बदलाव या गया है और बच्चों में बुखार के साथ लाल दाने निकल रहे हैं तो इसे टोमैटो फ्लू का नाम दे दिया गया है, लेकिन इससे घबराने की जरूरत नहीं है. ये भी किसी अन्य फ्लू की तरह ही है. जो एक से दूसरे बच्चे में फैलता है.

इससे पहले भी बच्चों को ऐसी बीमारियां हुई हैं जिनमें उनके शरीर पर दाने निकल जाते थे, लेकिन ऐसी कोई भी बीमारी या वायरस जानलेवा साबित नहीं हुआ. टोमैटो फ्लू के केस भी मई से रिपोर्ट किए जा रहे हैं, लेकिन कहीं ऐसा मामला नहीं आया है, जहां इससे बच्चों की मौत हुई है. ये फ्लू भी अन्य संक्रामक फ्लू की तरह ही है, हालांकि बस ध्यान ये रखना होता कि फ्लू की वजह से बच्चे के लंग्स में कोई इंफेक्शन न हो. क्योंकि फेफड़ों में संक्रमण होने से तबीयत बिगड़ सकती है. लेकिन राहत की बात यह है कि कुछ ही बच्चों में फ्लू से लंग्स इंफेक्शन होता है.

टोमैटो फ्लू के लक्षण –
डॉ. प्रवीण बताते हैं कि टोमैटो फ्लू में बच्चों को तेज बुखार, खांसी, जोड़ों में सूजन, शरीर पर बड़े लाल दाने निकलना शामिल है. कुछ मामलों में बच्चे को उल्टी, मितली आना और पूरे शरीर में तेज दर्द भी हो सकता है. ध्यान रखें कि बच्चा बिना हाथ धोए भोजन न करें. अगर घर में किसी बच्चे को बुखार है तो दूसरे बच्चे को उससे दूर रखें.

बचाव –
महामारी विशेषज्ञ डॉ. अंशुमान कुमार का कहना है कि किसी भी संक्रामक बीमारी से बचाव के लिए सावधानी बरतना जरूरी है. इसके लिए साफ सफाई और हैंड हाइजीन पर फोकस करना चाहिए. अगर लोग स्वस्थ भोजन लेंगें और अच्छे लाइफस्टाइल का पालन करेंगे तो बीमारियों के होनो की आशंका कम रहेगी. इम्यूनिटी को भी मजबूत रखना जरूरी है. इसके लिए डाइट में पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन और विटामिन लें. शरीर को हाइड्रेट रखें. बाहर के खानपान से बचें और रोजाना व्यायाम करें व अच्छी नींद लें. इसके अलावा यह भी जरूरी है कि बीमारी लोगों से दूर रहें. अगर खुद को बुखार या खांसी जुकाम है तो अन्य लोगों के संपर्क में आने से बचें और खुद को आइसोलेट कर लें.

Cases of tomato flu now increasing among monkeypox

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *