Type to search

इन राज्यों के बच्चों और महिलाओं में है सबसे ज्यादा खून की कमी : Survey

जरुर पढ़ें लाइफस्टाइल

इन राज्यों के बच्चों और महिलाओं में है सबसे ज्यादा खून की कमी : Survey

Share

राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण- 5 का रिपोर्ट सामने आया है. रिपोर्ट के मुताबिक, देश के बच्चों और महिलाओं के शरीर में खून की कमी यानी एनीमिया चिंता का विषय बना हुआ है. 14 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में आधी से अधिक महिलाओं और बच्चों में खून की कमी है. भारत एवं 14 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए जनसंख्या, प्रजनन और बाल स्वास्थ्य, परिवार कल्याण, पोषण और अन्य विषयों के प्रमुख संकेतकों से जुड़े आंकड़े बुधवार को सरकार द्वारा 2019-21 एनएफएचएस -5 के चरण दो के तहत जारी किए गए.

इन राज्यों में किया गया Survey –
स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है कि इस चरण में जिन राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को सर्वेक्षण में शामिल किया गया, उनमें अरुणाचल प्रदेश, चंडीगढ़, छत्तीसगढ़, हरियाणा, झारखंड, मध्य प्रदेश, दिल्ली राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, ओडिशा, पुडुचेरी, पंजाब, राजस्थान, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड शामिल हैं.

राष्ट्रीय स्तर पर, महिलाओं और बच्चों में एनीमिया के मामले 14 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के समान ही रहे. राष्ट्रीय स्तर के तथ्यों की गणना एनएचएफएस-5 के पहले चरण और दूसरे चरण के आंकड़ों का उपयोग करके की गई.

इन राज्यों के बच्चों और महिलाओं में है सबसे ज्यादा खून की कमी –
राज्यों की बात करें तो मध्य प्रदेश में 68.9 से बढ़कर 72.7, पंजाब में 56.6 से 71.1, राजस्थान में 60.3 से 71.5, हरियाणा में थोड़ा घटकर 71.7 से 70.4 झराखंड में भी थोड़ी से कमी के साथ 69.9 से 67.5 हो गया है. 15 से 19 साल की लड़कियों में भी खून कमी के मामले बढ़े हैं.

एनएफएचएस- 4 में ये आंकड़ा 54.1 प्रतिशत था जो अब 59.1 प्रतिशत हो गया है. इसमे ग्रामीण क्षेत्रों में 58.7 प्रतिशत जबकि शहरी क्षेत्रों में 54.1 प्रतिशत है. दूसरी तरफ 15 से 49 साल की आयु वर्ग की महिलाओं का प्रतिशत 50.4 से बढ़कर 52.2 हो गया है. बच्चों और महिलाओं की तुलना में पुरुषों के प्रतिशत में कमी है. 15 से 16 आयु वर्ग के 31.1 प्रतिशत पुरुषों में और 15 से 49 आयु वर्ग के 25 प्रतिशत पुरुषों में ही खून की कमी है.

एनएफएचएस- 4 की तुलना में एनएफएचएस- 5 के दूसरे चरण में राष्ट्रीय स्तर पर बच्चों और महिलाओं में खून की कमी के मामलों में बढ़ोतरी हुई है. एनएफएचएस- 4 में 6 से 59 महीने की आयु वर्ग के 58.6 प्रतिशत बच्चों में खून की कमी थी, जो अब बढ़कर एनएफएचएस- 5 में 67.1 प्रतिशत हो गया है. इसमें ग्रामीण क्षेत्रों में 68.3 प्रतिशत जबकि शहरी क्षेत्रों के 64.2 प्रतिशत मामले हैं.

Children and women of these states have the highest anemia: Survey

Share This :
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *