Type to search

चीन बना रहा हाइपरसोनिक विमान, एक घंटे में दुनिया के किसी भी हिस्से में पहुंचेगा प्लेन

गैजेट दुनिया

चीन बना रहा हाइपरसोनिक विमान, एक घंटे में दुनिया के किसी भी हिस्से में पहुंचेगा प्लेन

Share
china

चीन एक ऐसे हाइपरसोनिक विमान को तैयार कर रहा है, जो एक घंटे के भीतर 10 लोगों को पृथ्वी की किसी भी लोकेशन तक ले जा सकता है. फ्यूचरिस्टिक प्रोटोटाइप की तस्वीरों में इस विमान को डेल्टा पंखों के एक जोड़ी के साथ देखा जा सकता है. अडवांस्ड एयरोडायनामिक डिजाइन की वजह चीन का हाइपरसोनिक विमान ध्वनि की रफ्तार से पांच गुना तेज उड़ान भर सकता है.

बीजिंग द्वारा लंबे समय से एक रॉकेट की गति से 100 लोगों को ले जाने में सक्षम हाइपरसोनिक विमानों के बेड़े को तैयार करने की योजना बनाई जा रही है. साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक, इस हाइपरसोनिक विमान की लंबाई 148 फीट है, जो इसे बोइंग 737 से ज्यादा लंबा बनाता है. इसके मुख्य बॉडी पर दो एयर-ब्रीदिंग इंजन होंगे. इंटरेस्टिंग इंजीनियरिंग की रिपोर्ट्स के मुताबिक, विमान के डिजाइन को 20 साल पहले अमेरिकी स्पेस एजेंसी NASA के पूर्व चीफ इंजीनियर ने तैयार किया था. इसे अमेरिका में तैयार करने की योजना थी, लेकिन उच्च लागत और टेक्निकल समस्याओं को देखते हुए अमेरिकी सरकार ने अपने पैर पीछे खींच लिए. वहीं, अब चीन ने इस डिजाइन से प्रेरणा लेते हुए अपना हाइपरसोनिक विमान तैयार करना शुरू किया है.

साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट के अनुसार, 2025 तक वैज्ञानिक एक रॉकेट की गति से मेल खाने में सक्षम नई पीढ़ी के एयर-ब्रीदिंग इंजन के साथ हाइपरसोनिक विमान तैयार कर लेंगे. इसके बाद चीन विमान के पूरे बेड़े का ऑपरेशन करने की उम्मीद करता है. इन विमानों की रफ्तार इतनी तेज होगी कि ये एक घंटे के भीतर पृथ्वी के किसी भी हिस्से तक ट्रैवल कर सकेंगे. चीन हाइपरसोनिक परमाणु हथियारों का भंडार करता रहा है, जो सभी मौजूदा मिसाइल रोधी शील्ड से बचने में सक्षम हैं. कम्युनिस्ट देश डीएफ-17 के नाम से जानी जाने वाली भूमि आधारित हाइपरसोनिक बैलिस्टिक परमाणु मिसाइल का भंडार कर रहा है.

China is making hypersonic aircraft, the plane will reach any part of the world in an hour

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *