Type to search

वॉर की तैयारी कर रहा चीन, सरकार सोई है : राहुल गांधी

दुनिया

वॉर की तैयारी कर रहा चीन, सरकार सोई है : राहुल गांधी

Share
Lac

अरुणाचल प्रदेश के तवांग में भारत और चीन के सैनिकों के बीच हुई झड़प पर देश में हंगामा जारी है. पहले संसद में ये मुद्दा जोर-शोर से उठा था और विपक्ष ने संसद को घेरा था. अब शुक्रवार (16 दिसंबर) को इस मामले पर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी के बयान पर भी घमासन हुआ. राहुल गांधी ने दावा किया कि भारत चीन से युद्ध के खतरे की अनदेखी कर रहा है. इस पर पलटवार करते हुए बीजेपी ने उन पर सेना का मनोबल गिराने का आरोप लगाया और पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू पर कटाक्ष किया. जानिए मामले से जुड़ी बड़ी बातें.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शुक्रवार को केंद्र पर आरोप लगाया कि चीन भारत की सीमा पर युद्ध की तैयारी कर रहा है और भारत सरकार सोई हुई है व खतरे को नजरअंदाज करने की कोशिश कर रही है. कांग्रेस सांसद ने आरोप लगाया कि चीन ने 2,000 वर्ग किलोमीटर भारतीय क्षेत्र पर कब्जा कर लिया है, 20 भारतीय सैनिकों को मार डाला है और ‘अरुणाचल प्रदेश में हमारे जवानों की पिटाई कर रहा है.’

राहुल गांधी ने भारत जोड़ो यात्रा के 100 दिन पूरे होने पर जयपुर में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि जो चीन का खतरा (थ्रेट) है और मुझे तो वो स्पष्ट है. मैं इसको अब दो-तीन साल से कह रहा हूं वो बिल्कुल स्पष्ट है और केंद्र सरकार उसको छिपाने की कोशिश कर रही है. सरकार उसको नजरअंदाज कर रही है मगर उस खतरे को ना छुपाया जा सकेगा और ना ही उसे अनदेखा किया जा सकेगा.

राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि चीन, भारत की सीमा पर युद्ध की तैयारी कर रहा है. उन्होंने कहा कि उनकी पूरी तैयारी चल रही है. उनका लद्दाख की तरफ और अरुणाचल की तरफ पूरा आफेंसिव प्रिपेरेशन (युद्ध की तैयारी) चल रहा है. हिन्दुस्तान की सरकार सोई हुई है. चीन पर सरकार चीजों को छिपाने की कोशिश कर रही है, लेकिन इसे छिपाया नहीं जा सकता. हमारे विदेश मंत्री को अपनी समझ गहरी करनी चाहिए.

बीजेपी सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौर ने राहुल गांधी के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि राहुल गांधी के नाना जी सो रहे थे और उन्होंने सोते-सोते भारत का 37 हजार स्क्वायर किमी क्षेत्र गंवा दिया. उसके बाद राहुल गांधी को लगा कि चीन से मित्रता करनी चाहिए और अब मित्रता इतनी गहरी है कि चीन क्या करने वाला है ये उन्हें पता है. राजीव गांधी फाउंडेशन को चीन की कम्युनिस्ट पार्टी से 1.35 करोड़ रुपये मिले हैं. उन्होंने कहा कि अब ये नेहरू का भारत नहीं बल्कि मोदी का भारत है. सेना को देश की रक्षा करने के लिए खुली छूट है. हमारी सेना घुस कर मारती है.

केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने भी राहुल के बयान पर प्रतिक्रिया दी. उन्होंने कहा कि राजीव गांधी फाउंडेशन ने चीन से पैसा लिया यह एक भ्रष्टाचार है. पं. नेहरू और कांग्रेस के शासन में हमारी जमीन किस तरह चीन के पास गई यह सभी जानते हैं. राहुल गांधी को गंभीरता से नहीं लेना चाहिए. अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि चीन को दंडित करने के बजाय, वे चीन के व्यापार में योगदान दे रहे हैं. 3,560 भारतीय कंपनियों में चीनी निदेशक हैं. मैं इसे चुनौती देता हूं, जाकर जांच करो. इन बातों पर संसद में खुलकर चर्चा करें. राहुल गांधी इन बातों से सरकार को अवगत कराते हैं और सरकार को यह पसंद नहीं है.

China is preparing for war, the government is sleeping: Rahul Gandhi

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *