Type to search

कोयंबटूर रेप केस: ‘पीड़िता का ‘टू-फिंगर टेस्ट’ नहीं हुआ, आरोपी के खिलाफ होगी उचित कार्रवाई’

क्राइम जरुर पढ़ें देश

कोयंबटूर रेप केस: ‘पीड़िता का ‘टू-फिंगर टेस्ट’ नहीं हुआ, आरोपी के खिलाफ होगी उचित कार्रवाई’

Share

तमिलनाडु के कोयंबटूर रेप केस में वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी का बड़ा बयान सामने आया है। वीआर चौधरी ने कहा है कि ऐसी घटनाओं पर वायुसेना का कानून बहुत सख्त है। उन्होंने बताया कि महिला अधिकारी का टू-फिगर टेस्ट नहीं किया गया।

बता दें कि रेप पीड़िता महिला अधिकारी ने कहा था कि रेप के बाद वायुसेना के अधिकारियों ने उनकी सुनवाई नहीं की और डॉक्टरों ने उनका टू-फिगर टेस्ट किया, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने बैन कर रखा है।

वायुसेना वीआर चौधरी ने मीडिया कार्यक्रम में कहा, “वायुसेना के कानून ऐसी घटनाओं पर बहुत सख्त हैं. टू-फिगर टेस्ट की बात को गलत तरीके से रिपोर्ट किया गया है. कोई टू-फिंगर टेस्ट नहीं हुआ था। हम अच्छी तरह नियमों से वाकिफ हैं और इस मामले में उचित कार्रवाई की जाएगी।”

आपको बता दें कि वायुसेना की महिला अधिकारी ने अपनी शिकायत में कहा था कि वायुसेना के अधिकारियों ने उनकी मदद नहीं और बताया कि रेप की पुष्टि करने के लिए अकादमी के डॉक्टरों टू-फिंगर टेस्ट किया था।

Coimbatore rape case: ‘Two-finger test’ of the victim was not done, appropriate action will be taken against the accused

Share This :
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *