Type to search

Corona की तीसरी लहर कम घातक, अप्रैल में हो जाएगी खत्म : IIT के प्रोफेसर

जरुर पढ़ें देश

Corona की तीसरी लहर कम घातक, अप्रैल में हो जाएगी खत्म : IIT के प्रोफेसर

Share

कोरोना के लगातार बढ़ रहे मामलों और इसके नए वेरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर राहत भरी खबर है. इसी कड़ी में IIT कानपुर के वरिष्ठ वैज्ञानिक और पद्मश्री प्रोफेसर मणींद्र अग्रवाल ने दावा किया है कि कोरोना की तीसरी लहर दूसरी की तरह घातक नहीं होगी और ये अप्रैल तक ख़त्म हो जाएगी. प्रो. अग्रवाल ने कहा कि चुनावी रैलियों में बड़ी संख्या में लोग गाइडलाइन का पालन किए बगैर पहुंचते हैं, ऐसे में संक्रमण का खतरा काफी हद तक बढ़ जाता है.

ऐसे में एहतियात बरतने की जरूरत है. यदि रैलियां होती हैं तो संक्रमण समय से पहले तेजी पकड़ सकता है. उनका कहना है कि चुनाव को लेकर कोई टिप्पणी नहीं की जा सकती. इसका अधिकार जिन संस्थाओं के पास है, वह निर्णय लेंगी. बस सभी को अलर्ट रहना होगा. अपने गणितीय मॉडल के आधार पर कोरोना महामारी के बारे में बताने वाले मणींद्र अग्रवाल के मुताबिक भारत में जनवरी में तीसरी लहर आएगी, मार्च में 1.8 लाख केस रोज आ सकते हैं.

राहत की बात यह रहेगी कि हर 10 में से 1 को ही अस्पताल की जरूरत पड़ेगी. मार्च के मध्य में दो लाख बेड की जरूरत होगी. उन्होंने दावा किया, ‘दक्षिण अफ्रीका की तरह भारत में भी अधिक प्रभाव पड़ने की आशंका कम है.’

Corona’s third wave less deadly, will end in April: IIT professor

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *