Type to search

चक्रवात असानी रास्ता बदलकर आंध्र की तरफ बढ़ा

जरुर पढ़ें देश

चक्रवात असानी रास्ता बदलकर आंध्र की तरफ बढ़ा

Share

बंगाल की खाड़ी में उठा भीषण चक्रवाती तूफान असानी अब रास्ता बदलकर आंध्र प्रदेश की तरफ बढ़ रहा है. मौसम विभाग ने आंध्र प्रदेश के तीन जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी किया है. इसका मतलब वहां पर असानी से तबाही की आशंका है. मौसम विभाग का अनुमान है कि असानी बुधवार सुबह काकीनाडा और विशाखापट्टनम के बीच तट से टकराएगा. इस दौरान 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तूफानी हवाएं चल सकती हैं. भारी बारिश हो सकती है. खबर लिखे जाने तक चक्रवात असानी के असर से काकीनाडा में तेज़ हवाएं चलनी शुरु हो गई थीं और समुद्र में ऊंची लहरें उठ रही थीं.

मौसम विभाग ने आंध्र प्रदेश के तीन जिले- ईस्ट गोदावरी, वेस्ट गोदवरी और यनम के लिए रेड अलर्ट जारी किया है. कहा गया है कि बुधवार सुबह 8.30 बजे के बाद यहां पर तूफानी हवाएं चल सकती हैं और भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है. इस दौरान हवा की रफ्तार 55 से 65 किमी प्रति घंटे तक होगी. कहीं-कहीं पर 70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी. मौसम विभाग ने तीन अन्य जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट घोषित किया है, ये हैं- श्रीकाकुलम, विजयनगरम और विशाखापट्टनम. यहां पर भी बुधवार सुबह 8.30 बजे के बाद भारी से बहुत भारी बारिश और 65 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तूफानी हवाएं चलने के आसार हैं. ये स्थिति 12 मई की सुबह तक रहने की संभावना है.

भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के आखिरी अपडेट में बताया गया कि असानी तूफान पिछले 6 घंटे से 12 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आगे बढ़ रहा है. इसके बुधवार सुबह उत्तर पश्चिम बंगाल की खाड़ी होते हुए मध्य पश्चिम में आंध्र प्रदेश तट पहुंचने की संभावना है. उसके बाद बहुत मुमकिन है कि ये एक बार फिर से अपना रास्ता बदलेगा और मछलीपटनम, नरसापुर, यनम, काकानीडा, टूनी और विशाखापट्टनम तट के किनारे चलते हुए धीरे-धीरे उत्तर और उत्तर-पश्चिम की तरफ बढ़ेगा. बुधवार शाम को इसके बंगाल की खाड़ी के मध्य-पश्चिम में आंध्र प्रदेश के उत्तर में पहुंचने की संभावना है. फिर ये खाड़ी में उत्तर-पश्चिम की तरफ बढ़ेगा. मौसम विभाग का अनुमान है कि बुधवार दोपहर तक असानी की भीषणता कम होना शुरू हो जाएगी और 12 मई को ये गहरे दवाब के क्षेत्र में बदल जाएगा.

भुवनेश्वर के विशेष राहत आयुक्त प्रदीप कुमार जेना ने देर रात समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि चक्रवात असानी पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी से उत्तर आंध्र तट की ओर बढ़ रहा है और चक्रवात कल सुबह आंध्र तट के काकीनाडा तक पहुंचने की संभावना है. विशाखापट्टनम तक आने के बाद फिर ये समुद्र में मिल जाएगा. इस दौरान इसकी ताकत कम होती जाएगी. 12 मई की सुबह चक्रवात कमज़ोर हो जाएगा.

आंध्र प्रदेश में तूफान की आशंका को देखते हुए विशाखापट्टनम एयरपोर्ट पर मंगलवार को सभीं फ्लाइटें रद्द कर दी गईं. इनमें इंडिगो की 23 और एयर एशिया की 4 उड़ाने शामिल हैं. इसके अलावा चेन्नई एयरपोर्ट पर आने वाली 10 फ्लाइटों को भी रद्द किया गया है. तूफान को देखते हुए राहत और बचाव की तैयारियां कर ली गई हैं. संबंधित एजेंसियों को भी अलर्ट कर दिया गया है.

असानी तूफान के रास्ता बदलने से पश्चिम बंगाल को राहत मिलने का अनुमान है. कोलकाता में क्षेत्रीय मौसम विभाग के रीजनल डायरेक्टर जीके दास ने TOI को बताया कि बुधवार सुबह ये कोलकाता से 600-700 किमी दूर होगा. जिस तरह से इसके आंध्र प्रदेश से टकराकर ओडिशा होते हुए बंगाल की खाड़ी में जाकर कमजोर होने की संभावना है, उससे लगता है कि बंगाल के तटीय इलाकों और कोलकाता में इसका ज्यादा असर नहीं होगा. ज्यादा तेज तूफानी हवाएं नहीं चलेंगी. सिर्फ 5 तटीय इलाकों में भारी बारिश हो सकती है.

Cyclone changed its course and moved towards Andhra

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *