Type to search

दिल्‍ली-काठमांडू बस सेवा आज से शुरू

जरुर पढ़ें देश

दिल्‍ली-काठमांडू बस सेवा आज से शुरू

Share

भारत ( India) और नेपाल (Nepal) के बीच चलने वाली दिल्‍ली-काठमांडू (Kathmandu) (नेपाल) बस सेवा 15 दिसंबर (बुधवार) से एक बार फिर शुरू हो जाएगी. जानकारी में कहा गया है कि डॉ अंबेडकर स्‍टेडियम टर्मिनल दिल्‍ली गेट नई दिल्‍ली से इसे शुरू किया जा रहा है. यह सेवा पिछले पैटर्न की तरह ही होगी. इस बार कोविड प्रोटोकॉल (Covid Protocol) का पालन किया जाएगा. इसमें नवीनतम MHA दिशानिर्देशों का पालन होगा.

नए नियमों के अनुसार यात्रियों को कोविड के दोनों डोज लग चुके होने चाहिए और उन्‍हें यात्रा के दौरान वैक्‍सीन सर्टिफिकेट दिखाना होगा. पहले की तरह 15 दिसंबर से भी बस रवानगी का समय सुबह 10 बजे का ही होगा, लेकिन इसके लिए करीब 1 घंटा पहले पहुंच कर रिपोर्ट करनी होगी. यह बस दिल्ली से सुबह 10 बजे काठमांडू के लिए निकलेगी और करीब 30 घंटे की यात्रा के बाद काठमांडू पहुंचेगी. इस यात्रा में तीन स्‍थानों पर हॉल्‍ट भी होगा, जिसमें यात्री रिफ्रेशमेंट ले सकेंगे. इस यात्रा के लिए यात्रियों को अपनी टिकट पहले से बुक करानी होंगी. यह यात्रा एयरकंडीशंड लक्‍जरी बस में होती है, जिसमें यात्रियों को पहले से ही लागू अंतरराष्‍ट्रीय नियमों का पालन करना होता है.

जानकारी के मुताबिक दिल्‍ली-काठमांडू-दिल्‍ली अंततराष्‍ट्रीय बस सेवा 25 नवंबर 2014 से शुरू की थी. इस लक्जरी बस में 2X2 आरामदायक बैठने की व्यवस्था है. गौरतलब है कि इस साल नवंबर से पटना से काठमांडू और जनकपुर के लिए बस सेवा (Bihar-Nepal Bus Service) फिर से बहाल हो गई है. दीपावली के मौके पर फिर से यह बस सेवा शुरू हो गई है. दीपावली (Diwali) के ठीक पहले दोनों देशों की सरकारों द्वारा बस सेवा बहाल करने पर सहमति जताई थी. दीपावली के दिन बिहार से नेपाल के लिए बस सेवा की शुरुआत हुई. नेपाल सरकार की तरफ से काठमांडू से पटना के लिए बस सेवा की शुरुआत भी हो गई है.

बिहार में कागजी खानापूर्ति में हुई देरी के कारण यहां से चलने वाली बसों का परिचालन एक-दो दिन देरी से हो रहा है. पटना और बोधगया से काठमांडू और जनकपुर के लिए चलने वाली बसों का परिचालन शुरू हो चुका है. बस मालिकों ने भी काठमांडू और जनकपुर के लिए बाकायदा बुकिंग भी शुरू कर दी है.

Delhi-Kathmandu bus service starts from today

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *