Type to search

Pregnancy में गलती से भी न खाए ज़्यादा गुड़, वरना…

जरुर पढ़ें देश लाइफस्टाइल

Pregnancy में गलती से भी न खाए ज़्यादा गुड़, वरना…

Share on:

हम सब जानते है कि गुड़ में आयरन, पोटेशियम, मैग्नीशियम, प्रोटीन जैसे कई पोषक तत्वों से भरपरू होता है। हालांकि, कोई भी चीज़ की अति नुकसान पहुंचा सकती है, ऐसा ही कुछ गुड़ के साथ भी है। गुड़ हेल्दी ज़रूर होता है, लेकिन अगर ज़रूरत से ज़्यादा का लिया जाए, तो यह सेहत को कई तरह से नुकसान पहुंचा सकता है।

खासतौर पर अगर आप प्रेग्नेंसी के दौरान गुड़ ज़्यादा खा लेती हैं, तो इससे डायबिटीज़ का ख़तरा बढ़ जाता है। दरअसल गुड़ में भी फ्रुकटोस की अच्छी मात्रा होती है, जो ब्लड शुगर के स्तर को बढ़ाकर जेस्टेशनल डायबिटीज के जाखिम को बढ़ा देता है।

  • गुड़ को अगर थोड़ा ही खाया जाए, तो यह इम्यूनिटी और मेटाबॉलिज़म को मज़बूत बनाने का काम करता है, लेकिन अगर इसे ज़्यादा खा लिया जाए, तो इससे पेट खराब हो सकता है और कब्ज़ शुरू हो सकता है। गुड़ की तासीर गर्म होती है, जिससे शरीर में गर्मी पैदा हो सकता है और पाचन पर असर पड़ सकता है।
  • कई लोगों को लगता है कि गुड़ खाने से उनका वज़न नहीं बढ़ेगा, लेकिन ऐसा नहीं है। ज़्यादा गुड़ खा लेने से वज़न बढ़ने लगता है। गुड़, प्रोटीन और फैट के साथ फ्रुकटोस और ग्लूकोस से भरपूर होता है। 100 ग्राम गुड़ में 383 कैलोरी होती हैं।
  • गुड़ फूड एलर्जी का कारण भी बन सकता है, लेकिन कई बार इसे ज़्यादा खा लेने से पेट दर्द, सर्दी, खांसी, मतली, सिर दर्द और उल्टी जैसी समस्याएं पैदा हो जाती हैं। इसलिए थोड़ा ही खाएं।
  • कई लोग गुड़ को हेल्दी समझकर मीठे की जगह इसे ही खूब सारा खा लेते हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि 100 ग्राम गुड़ में 10-15 ग्राम फ्रूकटोस होता है। अगर इसे रोज़ खाया जाए, तो आपके ब्लड शुगर का स्तर बढ़ सकता है। अगर आप ज़्यादा गुड़ खाते हैं, तो ये चीनी की तरह ही काम करेगा।
  • गुड़ को गन्ने के रस से बनाया जाता है, जो शोधन के बाद ही गुड़ के रूप में आता है। आमतौर पर गुड़ को जहां बनाया जाता है, वहां स्वच्छता का ज़्यादा ख्याल नहीं रखा जाता। अगर गन्ने के रस को सफाई से न निकाला जाए, तो इसमें कई तरह के कीटाणु पनप सकते हैं। इसलिए गुड़ को खरीदते वक्त सतर्क रहें और ज़्यादा न खाएं।

    Do not eat too much jaggery even by mistake in pregnancy, otherwise…
Asit Mandal

Share on:
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *