Type to search

भगवान श्री कृष्ण की कृपा पाने के लिए जन्माष्टमी पर क्या करें और क्या न करें

जरुर पढ़ें देश

भगवान श्री कृष्ण की कृपा पाने के लिए जन्माष्टमी पर क्या करें और क्या न करें

Share

मुंबई – हिंदू धर्म में भगवान विष्णु के पूर्णावतार माने जाने वाले श्रीकृष्ण की पूजा का बहुत ज्यादा महत्व है क्योंकि उनकी पूजा और भक्ति जीवन से जुड़े सभी भय को दूर करके सुख-समृद्धि और सफलता दिलाने वाली मानी गई है. मान्यता है कि सच्चे मन से साधना और सुमिरन करने मात्र पर भगवान श्री कृष्ण अपने भक्तों को बचाने के लिए दौड़े चलते आते हैं. यही कारण है कि उनके भक्तों को भाद्रपद मास के कृष्णपक्ष में पड़ने वाले जन्माष्टमी पर्व का पूरे साल इंतजार बना रहता है.

श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर करें ये काम –

  • जन्माष्टमी के पावन पर्व पर भगवान श्री कृष्ण की पूजा करते समय उन्हें उनकी प्रिय चीजें जैसे मोरपंख, गाय के दूध से बनी खीर, पंचामृत, मिठाई, मक्खन आदि अवश्य चढ़ाएं.
  • जन्माष्टमी के पावन पर्व पर पूजा करते समय शंख का प्रयोग अवश्य करें और इसी के माध्यम से अपने लड्डू गोपाल को स्नान कराएं.
  • जन्माष्टमी के पावन पर्व पर लड्डू गोपाल को भोग लगाते समय तुलसी दल अवश्य चढ़ाएं.
  • जन्माष्टमी के पावन पर्व पर लड्डू गोपाल की पूजा करने के बाद अपनी मनोकामना को मन में कहते हुए झूला जरूर झुलाएं.
  • जन्माष्टमी के पावन पर्व पर यदि संभव हो तो सारी उनके जन्म होने के खुशी में भजन, कीर्तन एवं जागरण करें.

कृष्ण जन्माष्टमी पर भूलकर न करें ये काम –

  • भगवान श्रीकृष्ण की पूजा में भूलकर भी बासी या मुरझाए फूल का प्रयोग न करें. यदि संभव हो भगवान श्री कृष्ण की पूजा में कमल का फूल अवश्य चढ़ाएं.
  • भगवान श्रीकृष्ण को गाय से बहुत प्रेम था. ऐसे में श्री कृष्ण जन्माष्टमी के पर्व पर भूलकर भी गोवंश को मारना या सताना नहीं चाहिए, अन्यथा पूजा और व्रत का फल नहीं मिलता है.
  • श्री कृष्ण जन्माष्टमी के व्रत को रखने वाले को भूलकर भी तामसिक चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए. इस पावन व्रत को रखने वाले व्यक्ति को एक दिन पूर्व से ही लहसुन, प्याज, मांसहार, शराब जैसी चीजों का त्याग कर देना चाहिए.
  • श्री कृष्ण जन्माष्टमी के पर्व पर भूलकर भी किसी के प्रति गलत विचार नहीं लाना चाहिए और न ही किसी भी व्यक्ति को अपशब्द कहना चाहिए.
  • श्री कृष्ण जन्माष्टमी के पर्व पर न तो तुलसी की पत्तियां तोड़नी चाहिए और न ही किसी पेड़-पौधे को काटना चाहिए. जन्माष्टमी की पूजा के लिए तुलसी दल एक दिन पूर्व ही तोड़कर रख लेना चाहिए.
  • श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पावन पर्व पर भूलकर भी काले वस्त्र पहनकर पूजा न करें. इसकी बजाय पीले रंग के कपड़े पहनना शुभ माना गया है.

    Do’s and don’ts on Janmashtami to get the blessings of Lord Shri Krishna
Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *