Type to search

खत्म हो सकता किसान आंदोलन, संयुक्त किसान मोर्चे की बैठक

जरुर पढ़ें देश

खत्म हो सकता किसान आंदोलन, संयुक्त किसान मोर्चे की बैठक

Share

दिल्ली बॉर्डर पर पिछले एक साल से जारी किसान आंदोलन समाप्त हो सकता है. एक बड़ा वर्ग आंदोलन वापस लेने के पक्ष में है. किसान संगठन बैठक के बाद इस आंदोलन को खत्म करने की घोषणा कर सकते हैं. फिलहाल केंद्र की तरफ से भेजे गए मसौदा प्रस्ताव पर सिंघु बॉर्डर पर विचार-विमर्श जारी है. केंद्र सरकार के मसौदे के अनुसार, संयुक्त किसान मार्चो के 5 सदस्य एमएसपी पर बनने वाली कमेटी में शामिल किए जाएंगे.

वहीं, सरकार ने एक साल के भीतर किसानों पर दर्ज किए गए मामलों को भी वापस लेने का प्रस्ताव रखा है. इसके अलावा, इस मसौदे में पंजाब मॉडल पर मुआवजा देने की बात भी है. हालांकि, लखीमपुर खीरी हिंसा मामले के आरोपी आशीष मिश्रा और उसके पिता केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा को पद से हटाने के अलावा बिजली बिल को लेकर कोई सकारात्मक बात नहीं हुई है.

आंदोलन की वापसी पर किसान नेता कुलवंत सिंह संधू का कहना है कि इस बारे में बुधवार को निर्णय लिया जाएगा. केंद्र की तरफ से भेजे गए प्रस्ताव के मसौदे पर अभी पूरी तरह सहमति नहीं बनी है. समिति सिंघु बॉर्डर पर चल रही बैठक में संयुक्त किसान मोर्चा के पूर्ण निकाय के साथ मसौदा साझा कर रही है.

किसानों की मांगें

  • MSP की गारंटी का कानून बनाया जाए.
  • आंदोलन के दौरान शहीद किसानों के परिवारों को मुआवजा मिले.
  • किसानों पर दर्ज मुकदमों को वापस लिया जाए.
  • बिजली बिल और पराली बिल को निरस्त किया जाए.
  • लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में आरोपी आशीष मिश्रा के पिता और केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा को बर्खास्त किया जा

Farmers movement may end, meeting of United Farmers Front

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *