Type to search

Delhi में COVID संक्रमण का डर, इस बार भी सार्वजनिक स्‍थलों पर छठ पूजा की अनुमति नहीं

जरुर पढ़ें देश

Delhi में COVID संक्रमण का डर, इस बार भी सार्वजनिक स्‍थलों पर छठ पूजा की अनुमति नहीं

Share

राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में इस बार लोगों को सार्वजनिक तौर पर छठ पूजा मनाने की अनुमति नहीं होगी। कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। हालांकि राष्‍ट्रीय राजधानी में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में कमी आई है, लेकिन त्‍योहारों के दौरान लोगों के एक-दूसरे से मिलने और सार्वजनिक तौर पर सामने आने से संक्रमण फैलने की रफ्तार फिर से बढ़ सकती है, जिसके मद्देनजर यह फैसला लिया गया है।

DDMA ने दिल्‍ली को लेकर जो एहतियाती दिशा-निर्देश जारी किए हैं, वे 15 नवंबर तक प्रभावी रहेंगे। इसके बाद हालात के आधार पर आगे का फैसला लिया जाएगा।

दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (DDMA) ने इस संबंध में एक आदेश जारी किया है, जिसमें सार्वजनिक स्थानों, मैदानों, ग्राउंड, मन्दिरों और घाटों पर छठ पूजा के कार्यक्रम आयोजित करने पर पाबंदी लगा दी गई है। प्राधिकरण ने लोगों से घरों में ही रहकर पूजा करने की अपील की है। कोविड-19 की तीसरी आशंका और त्‍योहारों को देखते हुए DDMA ने मेले आयोजित करने, फूड स्टॉल लगाने, झूला लगाने, रैली करने, जूलूस निकालने की भी अनुमति देने से इनकार किया है।

छठ पूजा इस बार 10 नवंबर को है, जिसके मद्देनजर उन घरों में अभी से तैयारियां होने लगी हैं, जहां इस पर्व को मनाया जाता है। धार्मिक आस्‍था का महापर्व छठ आम तौर पर नदियों-घाटों, तालाबों के किनारे सामूहिक रूप से मनाया जाता है। लेकिन कोविड-19 को देखते हुए बीते साल भी यह त्‍योहार अधिकांश लोगों ने अपने घरों में ही मनाया था और अब एक बार फिर लोगों से घरों में ही इस त्‍योहार को मनाने की अपील की गई है।

Fear of COVID infection in Delhi, this time also Chhath Puja is not allowed in public places

Share This :
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *