Type to search

पश्चिमी उत्तर प्रदेश के पांच जिलों में आज से बंद होगी गंगा जल की सप्लाई

जरुर पढ़ें देश

पश्चिमी उत्तर प्रदेश के पांच जिलों में आज से बंद होगी गंगा जल की सप्लाई

Share

पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई जिलों में पानी की समस्या पैदा हो सकती है. असल में मेरठ समेत वेस्ट यूपी के प्रमुख जिलों में शुक्रवार आधी रात से गंगा नहर की सफाई के चलते हरिद्वार से गंगा जल की सप्लाई बंद कर दी जाएगी. जिसके कारण मेरठ, गाजियाबाद, मुजफ्फरनगर, हापुड़, बुलंदशहर में गंगा जल की आपूर्ति बाधित रहेगी. वहीं पानी की समस्या को कम करने के लिए गंगा जल की जगह नगर निगम के ट्यूबवेल से पानी की सप्लाई की जाएगी. वहीं इसको लेकर नगर निगम का दावा है कि लोगों को पानी की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा.

दरअसल हर साल गंग नहर की सफाई की जाती है और इसके कारण अक्टूबर के महीने में पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई जिलों में पानी गंगा जल की समस्या रहती है. क्योंकि बारिश के बाद गंग नहर में सफाई की जाती है. नहर गाद की सफाई के लिए हर साल 15 अक्टूबर से गंगाजल की आपूर्ति बंद कर दी जाती है और इसकी के इस बार विजयादशमी की मध्यरात्रि से दीपावली की मध्यरात्रि तक बंदी का आदेश दिया गया है. फिलहाल अधिशासी अभियंताओं ने जनप्रतिनिधियों व किसानों से नहरों की सिल्ट सफाई में सहयोग करने का अनुरोध किया है. गंग नहर से मेरठ, गाजियाबाद, मुजफ्फरनगर, हापुड़, बुलंदशहर आदि जिलों में गंगा जल की आपूर्ति की जाती है.

वहीं नगर निगम द्वारा गंग नहर मेरठ मंडल और अनूपशहर शाखा के अधिशासी अभियंताओं ने बताया कि सिल्ट सफाई कार्य के लिए शुक्रवार आधी रात से गंगा जल की आपूर्ति बंद कर दी जाएगी. अधिकारियों का कहना है जल की आपूर्ति और गंगनहर की सफाई के संबंध में शासन के आदेश के तहत सूचना जारी की गई है. अगर किसी को कोई शिकायत है तो वह 2972867 के फोन नंबर 0121-2664976 पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकता है.

नगर निगम के जीएम जल कुमार गौरव ने बताया कि शुक्रवार रात से ही सभी ट्यूबवेल को चालू कर दिया जाएगा, ताकि विजयादशमी की आधी रात से कोई दिक्कत न हो. नगर निगम के सभी 157 ट्यूबवेल से पानी की आपूर्ति की जाएगी और नगर निगम प्रशासन पानी की कमी को पूरा करने के लिए वैकल्पिक व्यवस्था के तौर पर टैंकरों को भी तैयार रखेगा.

Five districts of western Uttar Pradesh will stop supply of Ganga water from today

Share This :
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *