Type to search

West Bengal के पूर्व मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य ने पद्म भूषण सम्‍मान लेने से किया इनकार

जरुर पढ़ें देश राजनीति

West Bengal के पूर्व मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य ने पद्म भूषण सम्‍मान लेने से किया इनकार

Share

केंद्र सरकार ने मंगलवार को गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर पद्म पुरस्कारों का ऐलान किया. इसमें पश्चिम बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री बुद्धदेब भट्टाचार्य का नाम भी शामिल है. लेकिन अब बुद्धदेव भट्टाचार्य ने पद्म भूषण लेने से मना कर दिया है. एक बयान जारी कर उन्होंने कहा कि वह पद्म भूषण पुरस्कार नहीं लेंगे. उन्होंने कहा, “मैं पद्म भूषण पुरस्कार के बारे में कुछ नहीं जानता हूं. मुझे इस बारे में किसी ने कुछ नहीं कहा है. यदि किसी ने मुझे पुरस्कार दिया है तो मैं वापस करता हूं.”

बता दें कि बुद्धेव भट्टाचार्य सीपीआईएम के पोलित ब्यूरो के सदस्य भी रह चुके हैं. अभी तक CPM और CPI के किसी भी नेता ने इस तरह का पुरस्कार नहीं लिया है. पूर्व मुख्यमंत्री ज्योति बसु को भी भारत रत्न देने की बात हुई थी, लेकिन उन्होंने भी इनकार कर दिया था. सरकार के सूत्र ने कहा कि केंद्र सरकार के एक अधिकारी ने सुबह-सुबह उनके परिवार को उन्हें पद्म भूषण पुरस्कार देने की जानकारी दी थी. उस दौरान उनकी पत्नी ने अधिकारी से मुलाकात की थी. पुरस्कार से इंकार करने को लेकर परिवार ने केंद्र सरकार को कोई जानकारी नहीं दी थी. पुरस्कारों की घोषणा शाम को ही हुई. यह संभवतः एक पॉलिटिकल स्टंट है.

केंद्र सरकार की ओर से दी गई जानकारी में बताया गया कि 128 लोगों का नाम पद्म पुरस्कारों के लिए चयनित किया गया है. इनमें चार को पद्म विभूषण, 17 को पद्म भूषण और 107 को पद्मश्री सम्मान से सम्मानित किया जाएगा. पश्चिम बंगाल से बुद्धेव भट्टाचार्य को पद्मभूषण, विक्टर बनर्जी को पद्म भूषण, प्रह्लाद राय अग्रवाल को पद्म श्री, संघमित्रा बंदोपाद्याय को पद्म श्री, काजी सिंह को पद्म श्री और कलिपदा सोरेन को पद्मश्री के लिए चयनित किया गया है.

Former West Bengal Chief Minister Buddhadeb Bhattacharjee refuses to accept Padma Bhushan

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *