Type to search

मोदी के मुरीद हुए फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों, अमेरिका भी खुश

दुनिया

मोदी के मुरीद हुए फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों, अमेरिका भी खुश

Share
Pm modi

मोदी के फैसलों पर अक्सर खिंचाई करने वाली पश्चिम की मीडिया आज मोदी-मोदी करते नहीं थक रही. पूरी वेस्टर्न मीडिया सिर्फ मोदी की तारीफ में लगा हुआ है. दरअसल, पिछले हफ्ते शंघाई सहयोग संगठन (SCO) शिखर सम्मेलन सभी नेता जुटे थे. उज्बेकिस्तान के शहर समरकंद में पुतिन के साथ अपनी मुलाकात के दौरान मोदी ने रूसी राष्ट्रपति से कहा था, ‘आज का दौर युद्ध का नहीं है और मैं फोन पर आपसे इस पर बात कर चुका हूं.’

इस पर पुतिन ने मोदी से कहा था कि वह यूक्रेन युद्ध को लेकर भारत की चिंताओं से अवगत हैं और रूस इसे जल्द से जल्द समाप्त करने के लिए हर संभव प्रयास करेगा. अब पीएम मोदी के इस स्टैंड से पश्चिमी देश पीएम मोदी की तारीफ कर रहे हैं. फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने न्यूयॉर्क शहर में संयुक्त राष्ट्र महासभा के चल रहे 77वें सत्र में पीएम मोदी की जमकर तारीफ की. उन्होंने कहा कि कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने सही कहा था कि यह समय युद्ध का नहीं है. उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी भारत के प्रधानमंत्री सही थे जब उन्होंने कहा कि यह समय युद्ध का नहीं है. यह पश्चिम के खिलाफ बदला लेने के लिए नहीं है, या पूर्व के खिलाफ पश्चिम का विरोध करने के लिए नहीं है. यह हमारे संप्रभु के लिए है.

एससीओ शिखर सम्मेलन के मौके पर पीएम मोदी के बयान पर एक सवाल के जवाब में सुलिवन ने कहा, “मुझे लगता है कि प्रधानमंत्री मोदी ने जो कहा वो सही और न्यायपूर्ण है. इसका बहुत स्वागत किया गया. उन्होंने आगे कहा कि जिस तरह से यह युद्ध समाप्त होना चाहिए वह रूस के लिए संयुक्त राष्ट्र चार्टर की मूल शर्तों का पालन करना और उन क्षेत्रों को वापस करना है जिन्हें उसने बलपूर्वक जब्त कर लिया है. यूक्रेन, या संयुक्त राज्य अमेरिका, सभी को इस मूल प्रस्ताव के इर्द-गिर्द केंद्रित होने में सक्षम होना चाहिए. आप अपने पड़ोसी के क्षेत्र को बल से नहीं जीत सकते हैं. यदि रूस उस प्रयास को छोड़ देता है, तो यूक्रेन में शांति सबसे तेज और निर्णायक रूप से आएगी.

व्हाइट हाउस ने मंगलवार को कहा कि उज्बेकिस्तान में शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन से इतर एक बैठक के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को जो संदेश दिया वह उस सिद्धांत पर आधारित बयान है, जिसे वह सही और उचित मानते हैं। व्हाइट हाउस ने कहा कि अमेरिका इसका स्वागत करता है.

French President Macron admires Modi, America is also happy

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *