Type to search

कोरोना खतरे के बीच आज से पश्चिम बंगाल में गंगासागर मेला शुरू

देश राज्य

कोरोना खतरे के बीच आज से पश्चिम बंगाल में गंगासागर मेला शुरू

Share
Gangasagar fair

कोरोना खतरे के बीच आज से पश्चिम बंगाल में गंगासागर मेला शुरू हो रहा है। हालांकि कलकत्ता हाई कोर्ट ने कुछ शर्तों के साथ इसकी मंजूरी दी है। इस बार गंगासागर मेला 16 जनवरी तक लगेगा. हर साल मकर संक्रांति (Makar Sankranti 2022) के अवसर पर बंगाल में गंगासागर मेला लगता है.

देश में कोरोना विस्फोट के मद्देनजर इस बार गंगासागर मेला रद्द होने की आशंका थी. इस संबंध में कलकत्ता हाईकोर्ट में एक याचिका भी दायर की गई थी लेकिन कोर्ट ने कुछ शर्तों के साथ इस मेले के आयोजन की अनुमति दे दी. कोर्ट में पश्चिम बंगाल की सरकार के आश्वासन के बाद यह अनुमित दी है. इसके बाद शनिवार से गंगासागर मेले का विधिवत आयोजन हो गया. गंगासागर में मकर संक्रांति के दिन गंगासागर में डुबकी लगाने का विधान है. इस बार 15 जनवरी को मकर संक्रांति मनाया जा रहा है.

कोर्ट ने कहा पश्चिम बंगाल के गृह सचिव सुनिश्चित करेंगे की मेले के दौरान कोरोना मानकों का पूरी तरह पालन हो. कोर्ट ने तीन सदस्यों की कमेटी बनाई है, जो इस बात पर नजर रखेगी कि नियमों का पालन हो भी रहा है या नहीं. कलकत्ता हाईकोर्ट (Calcutta High Court) ने सरकार (West Bengal government) को निर्देश दिया है कि वह मेला स्थल सागर द्वीप को 24 घंटों के भीतर ‘नोटिफाइड एरिया’ घोषित करे. सागर द्वीप को नोटिफाइड एरिया घोषित करने पर राज्य को जरुरत के अनुरुप तीर्थयात्रियों के स्वास्थ्य, सुरक्षा और कल्याण के संबंध में कदम उठाने का अधिकार प्राप्त हो जाएगा.

मकर संक्रांति के मौके पर गंगा और बंगाल की खाड़ी के संगम स्थल गंगासागर में हजारों श्रद्धालु, साधु और पर्यटकों के डुबकी लगाने की संभावना है. लेकिन कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए इस बात की चिंता है कि कहीं मेले में कोरोना विस्फोट न हो जाए. कोर्ट ने इस बात पर चिंता जताई कि इतने सारे श्रद्धालु जब गंगा में डुबकी लगाएंगे तो नदी के पानी के माध्यम से कहीं कोरोना का संक्रमण वहां रह रहे रिहाइशी लोगों को संक्रमित न कर दे.

Gangasagar fair starts in West Bengal from today amid Corona threat

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *