Type to search

H3N2 Influenza Virus : अमेरिका-हांगकांग के बाद दिल्ली में हुई खतरनाक वायरस की एंट्री

देश लाइफस्टाइल

H3N2 Influenza Virus : अमेरिका-हांगकांग के बाद दिल्ली में हुई खतरनाक वायरस की एंट्री

H3N2 Influenza Virus
Share on:

देश की राजधानी दिल्ली में लगातार मौसम में बदलाव देखने को मिल रहा है। बदलते मौसम के साथ लोगों में वायरस का संक्रमण और सांस की बीमारियां भी हो रही हैं। वायरस से संक्रमित मरीजों में घाव तेजी से दिखाई दे सकते हैं। जिसने दिल्ली को एक बार फिर संकट में डाल दिया है। दिल्ली में हर साल इन्फ्लूएंजा वायरस का एक नया रूप लोगों को प्रभावित करता है। जानकारों का कहना है कि इस साल जनवरी में भी दिल्ली में एक तरह के इंफ्लूएंजा ने दस्तक दी है. इस वायरस को H3N2 इन्फ्लुएंजा नाम दिया जा रहा है।

डॉक्टरों का कहना है कि एच3एन2 इन्फ्लुएंजा वायरस एक तरह का फ्लू है। प्रमुख इन्फ्लूएंजा वायरस चार प्रकार के होते हैं। A,B,C और D. H3N2 इन्फ्लुएंजा वायरल टाइप A का एक उप प्रकार है। यह वायरस पक्षियों से लेकर सांस लेने वाले हर प्राणी को प्रभावित कर सकता है। विशेषज्ञों के मुताबिक, यह ज्यादातर 60 साल से ऊपर के लोगों और 5 साल से कम उम्र के बच्चों को प्रभावित कर सकता है। साथ ही गंभीर बीमारी, धूम्रपान करने वाले, मधुमेह, सांस के रोग अधिक प्रभावित होते हैं। ऐसे लोगों के लिए HN2 वायरस काफी खतरनाक साबित हो सकता है। यह वायरस सीधे नाक, गले और फेफड़ों पर अटैक करता है।

सर्दी, फ्लू, नाक बहना, शरीर में दर्द, बुखार, गले में खराश और पुरानी खांसी H3N2 वायरस के संक्रमण के प्रमुख लक्षण हैं। निकस का मानना ​​है कि प्रभावित लोगों को पुरानी खांसी होती है। इसके साथ सांस लेने में तकलीफ, सर्दी और खांसी जैसी समस्याएं भी होती हैं। विशेषज्ञों के मुताबिक, इन्फ्लूएंजा वायरस ने अमेरिका और हांगकांग में लोगों को काफी प्रभावित किया है। अब यह भारत में भी आ गया है। जनवरी के पहले सप्ताह में इस प्रकार का फ्लू दिल्ली के लोगों को काफी प्रभावित करता है। इस वजह से अस्पतालों में मरीजों की संख्या भी काफी बढ़ जाती है।

बचाव कैसे करें –
स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि एच3एन2 इन्फ्लुएंजा वायरस के लक्षण दिखते ही लोगों को आरटीपीसीआर टेस्ट कराना चाहिए।
अच्छी क्वालिटी के मास्क का इस्तेमाल करना चाहिए
समय-समय पर हाथों को साबुन से अच्छी तरह धोना चाहिए
संक्रमित लोगों के संपर्क में आने से बचना चाहिए
घबराने की बजाय बचाव के उपाय करने चाहिए
कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली वाले या गंभीर रूप से बीमार लोगों का विशेष ध्यान रखें
संक्रमण होने पर तुरंत डॉक्टरी सलाह लें

H3N2 Influenza Virus: Entry of dangerous virus in Delhi after America-Hong Kong

Asit Mandal

Share on:
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *