Type to search

मुंबई हमले के आरोपी तहव्वुर राणा के प्रत्यर्पण पर आज होगी सुनवाई, जल्द लाया जाएगा भारत

क्राइम दुनिया देश

मुंबई हमले के आरोपी तहव्वुर राणा के प्रत्यर्पण पर आज होगी सुनवाई, जल्द लाया जाएगा भारत

Share
Tahawwur Rana

मुंबई हमलों के आरोपी तहव्वुर राणा के प्रत्यर्पण मामले की तारीख तय हो गई है। लॉस एंजिलिस में एक फेडरल कोर्ट ने पाकिस्तानी मूल के कनाडाई कारोबारी राणा के व्यक्तिगत प्रत्यर्पण के मामले में तारीख तय की है। इस मामले में गुरुवार को सुनवाई होगी। भारत में साल 2008 में हुए मुंबई आतंकवादी हमले में हाथ के कारण राणा वांछित है। भारत सरकार के अनुरोध पर प्रत्यर्पण की सुनवाई लॉस एंजिलिस में मजिस्ट्रेट्र जज जैकलीन चुलजियान करेंगी।

अदालत के रिकॉर्ड बताते हैं कि अमेरिकी सरकार ने इस सप्ताह दो बार अदालत के समक्ष सीलबंद भारतीय दस्तावेज सौंपे हैं। एक दस्तावेज बुधवार को सौंपा गया। अनुरोध पर दस्तावेजों की सामग्री को सीलबंद किया गया है। प्रत्यर्पण पर सुनवाई स्थानीय समयानुसार दिन में डेढ़ बजे और अंतरराष्ट्रीय समयानुसार शुक्रवार, 25 जून को रात दो बजे होगी। अमेरिका ने अदालत के समक्ष कई अभिवेदनों में ‘प्रत्यर्पण के प्रमाणन संबंधी अनुरोध के पक्ष में अमेरिका के जवाब’ के समर्थन में घोषणा की है।

राणा 2008 के मुंबई आतंकवादी हमले में शामिल होने के मामले में भारत में वांछित है। मुंबई हमले में छह अमेरिकी नागरिकों समेत 166 लोग मारे गये थे। तहव्वुर राणा लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादी डेविड कोलमैन हेडली का बचपन का दोस्त है। भारत के अनुरोध पर राणा को मुंबई आतंकवादी हमले में संलिप्तता के आरोप में लॉस एंजिलिस में 10 जून, 2020 को फिर से गिरफ्तार किया गया था। भारत ने उसे भगोड़ा घोषित किया है। पाकिस्तानी मूल का 60 वर्षीय अमेरिकी नागरिक हेडली 2008 के मुंबई हमलों की साजिश रचने में शामिल था। वह मामले में गवाह बन गया था और हमले में अपनी भूमिका के लिए वर्तमान में अमेरिका में 35 साल जेल की सजा काट रहा है।

भारत-अमेरिका प्रत्यर्पण संधि के मुताबिक, भारत सरकार ने राणा के औपचारिक प्रत्यर्पण का अनुरोध किया है और अमेरिका ने प्रत्यर्पण की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

Share This :
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Join #Khabar WhatsApp Group.