Type to search

ओडिशा में भारी बारिश का अलर्ट

जरुर पढ़ें देश

ओडिशा में भारी बारिश का अलर्ट

Share
Rain

देश के अधिकांश हिस्सों में मानसून का दूसरा चरण सक्रिय है और पिछले कुछ दिनों से गुजरात, राजस्थान, ओडिशा जैसे राज्यों में भारी बारिश हो रही है. भारत मौसम विभाग यानी आईएमडी ने अगले 2 दिनों तक कई राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है. आईएमडी के मुताबिक पूर्व मध्य भारत के अधिकांश राज्यों में आज रात से दो दिनों तक भारी बारिश की संभावना है.

हालांकि गुजरात और राजस्थान में आज से बारिश में कमी आने की संभावना भी व्यक्त की गई है. दक्षिणी राज्यों में तमिलनाडु को छोड़कर लगभग सभी राज्यों में अगले 3 से 4 दिनों तक इसी तरह बारिश की संभावना व्यक्त की गई है. आईएमडी ने कहा है कि पूर्वी राजस्थान और आसपास के इलाके में निम्न दबाव का क्षेत्र कमजोर पड़ने लगा है. अगले 24 घंटे में इसके पश्चिम-उत्तर-पश्चिम दिशा की ओर बढ़ने की संभावना है. वहीं दक्षिण म्यांमार और पड़ोस में चक्रवाती सर्कुलेशनल बना हुआ है, जिसके कारण 19 अगस्त के आसपास बंगाल की उत्तरी खाड़ी के ऊपर निम्न दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है. इसके अलावा कोंकण और गोवा क्षेत्र में भी 21 अगस्त तक वर्षा का पूर्वानुमान व्यक्त किया गया है.

उत्तरी बंगाल की खाड़ी के ऊपर निम्न दबाव के प्रभावस्वरूप 18 अगस्त से पश्चिम बंगाल के मैदानी इलाके, ओडिशा, झारखंड, विदर्भ, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश में 21 अगस्त तक हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है. वहीं पश्चिम बंगाल, ओडिशा, झारखंड, पूर्व मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, विदर्भ और पश्चिमी मध्य प्रदेश के कुछ स्थानों पर आंधी तूफान और गरज के साथ छीटें तथा बिजली गिरने की चेतावनी भी जारी की गई है.
आईएमडी के मुताबिक उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश और पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ भागों में अगले दो दिनों तक हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है. इनमें से कुछ जगहों पर आंधी तूफान के साथ बिजली गिरने की भी आशंका है.

वहीं सिक्किम, असम, मेघालय, नागालैंड, पुड्डुचेरी और कारिकल के छिटपुट स्थानों पर 21 अगस्त तक भारी वर्षा का पूर्वानुमान है. आईएमडी ने ओडिशा में गुरुवार को भी भारी बारिश होने की चेतावनी देते हुए ‘येलो अलर्ट’ जारी किया है. ओडिशा के 17 जिलों में शुक्रवार को भी भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है.

Heavy rain alert in Odisha

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *