Type to search

IND VS ENG : लॉर्ड्स में जीतने के बाद कप्तान कोहली ने इंग्लैंड के जख्मों पर छिड़का नमक

खेल

IND VS ENG : लॉर्ड्स में जीतने के बाद कप्तान कोहली ने इंग्लैंड के जख्मों पर छिड़का नमक

Share

भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है। सीरीज का पहला मैच ड्रॉ हो गया था और दूसरे टेस्ट में भारतीय टीम ने 151 रन से दमदार जीत दर्ज की। भारत ने लंदन के ऐतिहासिक लॉर्ड्स मैदान पर खेले गए मुकाबले में मेजबान टीम को पहले दिन से लेकर पांचवें दिन तक दबाव में रखा। कुछ समय के लिए इंग्लैंड का पलड़ा भारी नजर आया, लेकिन भारतीय खिलाड़ी फिर हावी हो गए।

इस जीत से पूरा देश खुश है। भारत की पहली पारी के 364 रन के जवाब में इंग्लिश टीम ने 391 रन जुटाए। इंग्लैंड को पहली पारी में 27 रन की लीड मिली। इसके बाद भारत ने दूसरी पारी में 298 रन बनाए और इंग्लैंड के सामने 272 का टारगेट रखा। लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने दूसरी पारी में बेहद निराशाजनक प्रदर्शन किया और पूरी टीम 51.5 ओवर में सिर्फ 120 रन पर ढेर हो गई।

लॉर्ड्स में जीत हासिल करने के बाद विराट कोहली ने इंग्लैंड के जख्मों पर जैसे नमक छिड़क दिया। विराट कोहली ने कहा कि मैच के दौरान हुए तनाव ने उनकी टीम को जीत के लिए प्रेरित किया। विराट कोहली ने कहा मोहम्म्द शमी और जसप्रीत बुमराह के बीच दूसरी पारी में नौवें विकेट की साझेदारी ने टीम के लिये जीत का माहौल तैयार किया। भारत ने शमी (70 गेंदों पर नाबाद 56) और बुमराह (64 गेंदों पर नाबाद 34) के बीच नौवें विकेट के लिये 89 रन की अटूट साझेदारी से अपनी दूसरी पारी आठ विकेट पर 298 रन पर समाप्त घोषित करके इंग्लैंड के सामने 272 रन का लक्ष्य रखा और फिर उसकी पूरी टीम 120 रन पर आउट किया।

कोहली ने मैच के बाद कहा, ‘मुझे पूरी टीम पर गर्व है। पिच से पहले तीन दिन गेंदबाजों को मदद नहीं मिली लेकिन हमने अपनी रणनीति अच्छी तरह से लागू की। दूसरी पारी में बुमराह और शमी ने जिस तरह से दबाव की परिस्थितियों में बल्लेबाजी की वह बेजोड़ था। यहीं से माहौल बना जिससे हमें आगे मदद मिली। मैदान पर जो तनाव हुआ उसने भी हमे जीत के लिए प्रेरित किया।’

विराट कोहली ने कहा, ‘निचले क्रम के बल्लेबाजों को ऐसी साझेदारी करने के अधिक मौके नहीं मिलते और जब भी हम सफल रहे हैं तब हमारे निचले क्रम ने अपना योगदान दिया।’ कोहली ने कहा कि टीम समझती थी कि 60 ओवर में 272 रन बनाना मुश्किल होगा लेकिन 10 विकेट लिये जा सकते हैं। उन्होंने कहा, ‘हम जानते थे कि हम 10 विकेट ले सकते हैं। मैदान पर थोड़े तनाव ने हमें प्रेरित किया। हम शमी और बुमराह का हौसला बढ़ाना चाहते थे और इसलिए हमने उन्हें नयी गेंद सौंपी, उन्होंने हमें तुरंत विकेट भी दिलाये।’

Share This :
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Join #Khabar WhatsApp Group.