Type to search

Laloo Yadav पर फिर लगा बड़ा आरोप

देश बड़ी खबर बिहार चुनाव राजनीति राज्य

Laloo Yadav पर फिर लगा बड़ा आरोप

Share
Laloo yadav..accused

Laloo Yadav.. फोन करके हमारे विधायकों को प्रलोभन दे रहे हैं’… मुकेश सहनी और मांझी का आरोप

Laloo Yadav..की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। इसी कड़ी में आज नीतीश सरकार में मंत्री और VIPअध्यक्ष मुकेश सहनी ने Laloo Yadav..पर फोन करके समर्थन मांगने का आरोप लगाया है । वहीं, पूर्व सीएम जीतनराम मांझी का भी दावा है कि Laloo Yadav.. ने उनसे भी बात करने की कोशिश की थी ।

कैसे शुरू हुआ विवाद

बिहार की राजनीति में उस वक्त भूचाल मच गया जब BJP नेता सुशील मोदी ने आरोप लगाया कि RJD अध्यक्ष Laloo Yadav..ने रांची से फोन करके NDA विधायकों को अपनी तरफ करने की कोशिश कर रहे हैं। सुशील मोदी ने अपने आरोपों को बल देने के लिए Twitter पर मोबाईल नंबर सार्वजनिक कर दिया, जिससे फोन आने के दावे किए जा रहे थे । हालांकि अब उसे Twitter द्वारा हटा दिया गया है। साथ ही अकाउंट को लॉक किया गया है । ट्विटर के मुताबिक, इस ट्वीट में नियमों का उल्लंघन किया गया है ।

पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने आरोप लगाया है कि नीतीश कुमार सरकार को गिराने के लिए उनके पास भी जेल से आरजेडी सुप्रीमो Laloo Yadav.. का फोन आया था. जीतन राम मांझी ने आज यह सनसनीखेज खुलासा किया । मांझी ने बताया कि Laloo Yadav..ने जेल से उन्हें फोन किया था और उनसे बात करने की इच्छा जताई थी मगर उन्होंने बात नहीं की.

पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने कहा कि Laloo Yadav..जेल में बैठकर राजनीति कर रहे हैं और यह एक गलत परंपरा है और मैं मांग करता हूं कि इसकी जांच होनी चाहिए। मेरे विधायकों को भी संपर्क करके मंत्री बनाने का प्रलोभन दिया गया था ।

जब इस संबंध में जेल सुपरिटेंडेंट हामिद अख्तर से पूछा गया तब उन्होंने जवाब दिया कि जेल में मैन्युअल का पालन उनके अधिकार क्षेत्र में है, लेकिन लालू यादव 1 केली बंगले में पुलिस कस्टडी में हैं । उसकी जिम्मेदारी प्रशासन पर है ।

लगातार लग रहे आरोपों के बाद बिहार की राजनीति में खलबली मच गई है। इस संबंध में महागठबंधन की तरफ से किसी तरह का बयान सामने नहीं आया है।

http://sh028.global.temp.domains/~hastagkh/public-interest-litigation-filed-against-lalu-in-jharkhand-high-court/

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *