Type to search

Mahashivratri : महाशिवरात्रि व्रत आज, इस शुभ मुहूर्त में करें पूजा, भोलेनाथ का मिलेगा आशीर्वाद

देश लाइफस्टाइल

Mahashivratri : महाशिवरात्रि व्रत आज, इस शुभ मुहूर्त में करें पूजा, भोलेनाथ का मिलेगा आशीर्वाद

Mahashivratri
Share on:

देशभर में आज महाशिवरात्रि व्रत मनाया जा रहा है. लोग इस दिन भगवन शंकर की पूजा करते है और उनसे आशीर्वाद प्राप्त करते है. आज का दिन बहुत ही शुभ माना जाता है. आज लोग व्रत रखकर भगवान शिव को प्रसन्न करते है. हिंदू पंचांग के अनुसार आज यानि 18 फरवरी को फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि है और इस दिन महाशिवरात्रि का व्रत किया जाता है.

हिंदू धर्म में महाशिविरात्रि का विशेष महत्व है और इस व्रत को अधिक फलदायी माना गया है. इस दिन महिला, पुरुष व बच्चे सभी व्रत करते हैं और भोलेनाथ की कृपा प्राप्त करते हैं. कहते हैं कि जिस जातक पर भोलेनाथ अपनी कृपा बरसाते हैं उसके जीवन में कभी कोई कष्ट नहीं आता और सभी मनोकामनाएं भी पूर्ण होती हैं. महाशिवरात्रि के दिन विधि-विधान के साथ भगवान शिव और माता पार्वती का पूजन करना चाहिए. इसे सुख-समृद्धि, सौभाग्य और धन-दौलत की प्राप्ति होती है.

शुभ मुहूर्त –
प्रथम प्रहर पूजा मुहूर्त: शाम 06:13 बजे से रात 09:24 बजे तक
द्वितीय प्रहर पूजा मुहूर्त: रात 09:24 बजे से देर रात 12:35 बजे तक
तृतीय प्रहर पूजा मुहूर्त: देर रात 12:35 बजे से अगली सुबह 03:46 बजे तक
चतुर्थ प्रहर पूजा मुहूर्त: 19 फरवरी, सुबह 03:46 बजे से 06:56 बजे तक

पूजन विधि –
महाशिवरात्रि के दिन सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि करने के बाद मंदिर स्वच्छ करें और हाथ में जल लेकर व्रत का संकल्प करें. इस दिन मंदिर में जाकर शिवलिंग पर जल चढ़ाया जाता है. ध्यान रखें जल में थोड़ा दूध और कुछ दाने चीनी के अवश्य मिलाएं. इसके बाद भोलेनाथ को चंदन का तिलक करें और मां पार्वती को सिंदूर का तिलक लगाएं. फिर दोनों को कलावे से बांधे. महाशिवरात्रि के दिन शिवलिंग पर बेलपत्र, धतूरा, भांग, फूल और फल अर्पित करना शुभ माना जाता है. इस दिन गंगाजल, गन्ने के रस और शहद से भी भगवान शिव का अभिषेक किया जाता है.

Mahashivratri: Mahashivaratri fast today, worship in this auspicious time, you will get blessings of Bholenath

Asit Mandal

Share on:
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *