Type to search

NeoCov : कोरोना के बाद एक और खतरनाक वायरस ने दी दस्तक

जरुर पढ़ें देश

NeoCov : कोरोना के बाद एक और खतरनाक वायरस ने दी दस्तक

Share

कोरोना वायरस के अलग-अलग वेरिएंट को लेकर पूरी दुनिया परेशान है. इस बीच अब एक और नए वायरस ने दस्तक दी है. कहा जा रहा है कि ये कोरोना से भी ज्यादा खतरनाक है. खास बात ये है कि इस वायरस को लेकर चेतावनी चीन के वुहान लैब के वैज्ञानिकों ने दी है. बता दें कि नवंबर 2019 में वुहान से ही कोरोना का सबसे पहला मामला सामने आया था. ये नया वायरस साउथ अफ्रीका में मिला है.

कहा जा रहा है कि इससे संक्रमित होने वाले हर 3 में से एक की मौत हो रही है. साथ ही ये काफी तेज़ी से फैलता भी है. इस नए वायरस को फिलहाल NeoCov का नाम दिया गया है. रूस की न्यूज़ एजेंसी स्पूतनिक के मुताबिक NeoCov कोई नया वायरस नहीं है. ये MERS-CoV वायरस से जुड़ा है. जिसकी सबसे पहले खोज साल 2012 और 2015 में मध्य पूर्वी देशों में हुई थी. ये SARS-CoV-2 की तरह है, जिससे इंसानों में कोरोना वायरस फैलता है. रिपोर्ट्स के मुताबिक फिलहाल इस वायरस के अंश दक्षिण अफ्रीका में चमगादड़ों में पाए गए हैं. फिलहाल ये सिर्फ इन जानवरों के बीच फैल रहा है. लेकिन वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि ये इंसानों में भी ये फैल सकता है.

बायोरेक्सिव वेबसाइट पर प्रकाशित एक नए अध्ययन से पता चला है कि NeoCoV और इसके करीबी PDF-2180-CoV मनुष्यों को संक्रमित कर सकते हैं. चीन के रिसर्चर के मुताबिक ये बेहद खतरनाक है. NeoCoV से संक्रमित हर 3 में से एक की मौत हो रही है. साथ ही कहा है कि ये कोरोना के मुकाबले ज्यादा तेज़ी से फैलता है.रिपोर्ट में कहा गया है कि NeoCoV पर एक चीन की ब्रीफिंग के बाद, रूसी स्टेट वायरोलॉजी एंड बायोटेक्नोलॉजी रिसर्च सेंटर के विशेषज्ञों ने गुरुवार को एक बयान जारी किया. बयान में कहा गया है कि इस वायरस पर नजर रखी जा रही है. साथ ही इसके बारे में और भी स्टडी की जरूरत है.

NeoCov: After Corona, another dangerous virus knocked

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *