Type to search

US में नया बैंकिंग संकट, सिलिकॉन वैली बैंक पर लगा ताला, कई भारतीय स्टार्टअप में लगा है इसका पैसा

कारोबार देश

US में नया बैंकिंग संकट, सिलिकॉन वैली बैंक पर लगा ताला, कई भारतीय स्टार्टअप में लगा है इसका पैसा

Share
Silicon Valley Bank

अमेरिका में नया बैंकिंग संकट शुरू हो गया है। वहां की शीर्ष 16 बैंकों में शुमार सिलिकॉन वैली बैंक (एसवीबी) को नियामक ने तत्काल बंद कर दिया है। तकनीकी स्टार्टअप को कर्ज देने के लिए मशहूर एसवीबी फाइनेंसियल ग्रुप के संकट ने पूरी दुनिया के शेयर बाजारों में शुक्रवार को हलचल मचा दी और बैंकिंग सेक्टर के शेयरों में गिरावट आ गई।

अमेरिका के कैलिफोर्निया में वित्तीय संकट शुरू होने के बाद सिलिकॉन वैली बैंक (एसवीबी) भी संकट में आ गया है। जमाकर्ताओं के धन को सुरक्षित रखने के लिए राज्य के बैंकिंग नियामक ने डूब चुके एसवीबी को तत्काल बंद कर दिया है। तकनीकी स्टार्टअप को लोन देने के लिए मशहूर एसवीबी फाइनेंसियल ग्रुप के संकट ने पूरी दुनिया के शेयर बाजारों में शुक्रवार को हलचल मचा दी और बैंकिंग सेक्टर के शेयरों में गिरावट आ गई।

नियामक ने एक बयान जारी कर बताया कि संघीय जमाकर्ता बीमा निगम (एफडीआईसी) को इस बैंक का रिसीवर नियुक्त किया गया है और बैंक की 210 अरब डॉलर की संपत्तियों को बेचा जाएगा। एफडीआईसी से बीमित एसवीबी इस साल डूबने वाला पहला बैंक है। इससे पहले, एफडीआईसी से बीमित आखिरी बैंक अक्तूबर 2020 में डूबा था, जब अलमेना स्टेट बैंक को ताला लगा था। एफडीआईसी ने एक बयान जारी कर कहा कि सिलिकॉन वैली बैंक के सभी कार्यालय और शाखाएं 13 मार्च को खुलेंगी और सभी बीमित निवेशक सोमवार की सुबह अपने खाते का संचालन कर पाएंगे। एसवीबी के शेयरों में शुक्रवार को बाजार पूर्व कारोबार में 66 फीसदी गिरावट आ गई। एसवीबी ने नियामकीय कार्रवाई के बारे में कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

दुनिया भर में बैंकों के शेयरों में बृहस्पतिवार के बाद शुक्रवार को भी गिरावट रही। एस एंड पी 500 (स्टैंडर्ड एंड पुअर्स) बैंक इंडेक्स बृहस्पतिवार को 6.6 फीसदी गिरा था, जबकि शुक्रवार को यह गिरावट 0.5 फीसदी रही। वहीं, केबीडब्ल्यू रीजनल बैंकिंग इंडेक्स 2.8 फीसदी गिरा। यूरोप का एसटीओएक्सएक्स बैंकिंग इंडेक्स 4 फीसदी गिरा। पिछले एक साल में एक दिन में यह सबसे बड़ी गिरावट है। सिलिकॉन वैली बैंक (एसवीबी) में वर्तमान संकट का असर भारतीय स्टार्टअप की दुनिया पर पड़ने से इन्कार नहीं किया जा सकता। स्टार्टअप पर आंकड़े जुटाने वाली ट्रैक्सन डाटा के अनुसार, एसवीबी ने भारत में करीब 21 स्टार्टअप में निवेश कर रखा है। हालांकि, इनमें निवेश की गई राशि की जानकारी स्पष्ट नही है।

एसवीबी का भारत में सबसे अहम निवेश एसएएएस-यूनिकॉर्न आईसर्टिस में है। स्टार्टअप कंपनी एसवीबी से पिछले साल अक्तूबर में करीब 150 मिलियन डॉलर की पूंजी जुटाने में सफल रही थी। इसके अलावा ब्ल्यूस्टोन, पेटीएम, वन97 कम्युनिकेशन्स, पेटीएम मॉल, नापतोल, कारवाले, शादी, इनमोबि और लॉयल्टी रिवार्ड्ज के भी पैसे लगे हैं। वेंचर कैपिटल कंपनी एस्सेल पार्टनर्स के भी एसवीबी से कुछ समझौता है। एसवीबी के अनुसार, एस्सेल के संस्थापकों ने बैंक का इस्तेमाल कंपनी की तेज वृद्धि के लिए किया।

New banking crisis in US, Silicon Valley Bank is locked, its money is invested in many Indian startups

Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *