Type to search

दाऊद इब्राहिम के गुर्गों पर NIA की बड़ी कार्रवाई, 20 से ज्यादा ठिकानों पर छापेमारी

जरुर पढ़ें देश

दाऊद इब्राहिम के गुर्गों पर NIA की बड़ी कार्रवाई, 20 से ज्यादा ठिकानों पर छापेमारी

Share on:

मुंबई – अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के करीबियों पर नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) ने बड़ा एक्शन लिया है और मुंबई के 20 ठिकानों पर छापेमारी की है. इसके अलावा एनाईए ने ड्रग्स तस्करों पर भी छापा मारा है. बताया जा रहा है कि सभी ठिकाने डी कंपनी के सरगना दाऊद इब्राहिम से जुड़े करीबियों के हैं. एनआईए की छापेमारी मुंबई के बांद्रा, नागपाड़ा, गोरेगांव, परेल और सांताक्रूज इलाके में जारी है.

जिस केस में छापेमारी हुई है, यह वही केस है जिसमें ED ने NCP नेता नवाब मलिक को गिरफ्तार किया था. NIA ने बोरिवली, सांताक्रूज, बांद्रा, नागपाड़ा, गोरेगांव, परेल के 20 ठिकानों पर छापे मारे हैं. जानकारी के मुताबिक, गृह मंत्रालय के आदेश पर NIA ने दाऊद इब्राहिम , डी कंपनी के खिलाफ केस दर्ज किया था, उसपर ही यह जांच और छापेमारी चल रही है.

डी कंपनी संयुक्त राष्ट्र (UN) द्वारा बैन आतंकी संगठन है. वहीं 1993 में हुए मुंबई धमाकों के आरोपी दाऊद को 2003 में यूएन ने ग्लोबल आतंकी माना था. उसपर 25 मिलियन डॉलर का इनाम भी रखा गया था. दाऊद इब्राहिम से जुड़े मामले की जांच गृह मंत्रालय ने फरवरी 2022 में NIA को सौंपी थी. नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) आतंक पर जांच करने वाली देश की सबसे बड़ी एजेंसी है. इससे पहले तक ईडी दाऊद से जुड़े मामलों की जांच कर रही थी.

गृह मंत्रालय के मुताबिक, D कंपनी और दाऊद इब्राहिम भारत में टेरर फंडिंग, नार्को टेरर, ड्रग्स स्मगलिंग और फेक करेंसी (FICN) का व्यापार कर आतंक फैलाने का काम कर रहे हैं. इतना ही नहीं दाऊद इब्राहिम और इसकी D कंपनी, लश्कर ए तैयबा (LeT), जैश ए मोहम्मद (JeM) और अल कायदा के जरिए भारत में आतंकी गतिविधियों को अंजाम दे रही है. NIA सिर्फ दाऊद इब्राहिम और उसकी D कंपनी की आतंकी गतिविधियों की ही जांच नहीं करेगी बल्कि अंडरवर्ल्ड डॉन के गुर्गे छोटा शकील, जावेद चिकना, टाइगर मेनन, इकबाल मिर्ची (मृत), दाऊद की बहन हसीना पारकर (मृत) से जुड़ी आतंकी गतिविधियों की जांच भी करेगी.

बता दें कि दाऊद इब्राहिम (Dawood Ibrahim) साल 1993 में मुंबई में हुए बम धमाके का मुख्य साजिशकर्ता है. दाऊद की डी कंपनी को संयुक्त राष्ट्र संघ (UN) ने बैन आतंकी संगठन घोषित कर रखा है और यूएन ने साल 2003 में ग्लोबल आतंकी माना था. उसके खिलाफ 25 मिलियन डॉलर यानी करीब 192 करोड़ रुपये का इनाम है और अब तक कई रिपोर्ट्स में दावा किया जा चुका है कि दाऊद अपने साथियों के साथ पाकिस्तान में छिपा है, जो 1993 बम धमाकों के बाद मुंबई छोड़कर फरार हो गया था.

NIA’s big action on Dawood Ibrahim’s henchmen, raids on more than 20 places

Asit Mandal

Share on:
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *