Type to search

Pakistan की संसद में अविश्वास प्रस्ताव पेश, काउंटडाउन शुरू!

जरुर पढ़ें दुनिया देश

Pakistan की संसद में अविश्वास प्रस्ताव पेश, काउंटडाउन शुरू!

Share

पाकिस्तान की नेशनल असेंबली का दो दिवसीय अवकाश के बाद सोमवार को फिर महत्वपूर्ण सत्र शुरू हो गया है. देश में अस्पष्ट राजनीतिक हालात के बीच विपक्ष ने प्रधानमंत्री इमरान खान के खिलाफ औपचारिक रूप से अविश्वास प्रस्ताव पेश कर दिया है. सदन के नेता प्रतिपक्ष शाहबाज शरीफ ने यह प्रस्ताव सदन के सामने रखने की घोषणा की. अब सदन में 7 दिन के भीतर वोटिंग करानी होगी जिसमें इमरान खान को बहुमत सिद्ध करना होगा.

दरअसल, विपक्ष पहले से ही इमरान को गद्दी से हटाने की मुहिम चलाता रहा है, लेकिन पहली बार उसे कामयाबी मिलती दिख रही है, क्योंकि इमरान खेमे के करीब दो दर्जन सांसद भी उनसे मुंह मोड़ चुके हैं. बता दें कि 342 सदस्यीय नेशनल असेंबली में पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी (पीटीआई) के 155 सदस्य हैं और सरकार में बने रहने के लिए कम से कम 172 सांसदों की जरूरत है.

पाकिस्तान में सत्ता का नंबर गेम का हाल देखें तो इमरान को पहले 176 सांसदों का समर्थन हासिल था, लेकिन 24 सांसदों के बागी होने के बाद अब इमरान सरकार के साथ 152 सांसद ही खड़े हैं. यानी 342 सदस्यीय नेशनल असेंबली में इमरान खान बहुमत के 172 के आंकड़े से काफी पीछे हैं. उधर, विपक्षी पार्टियों को भरोसा है कि उन्हें सरकार को गिराने के लिए 342 के सदन में 172 सदस्यों का समर्थन मिल सकता है, जबकि सरकार का दावा है कि उसे इस प्रयास को विफल करने के लिए सदन में आवश्यक समर्थन प्राप्त है.

प्रधानमंत्री इमरान खान के खिलाफ चल रहे माहौल के बीच 8 मार्च को विपक्षी पार्टियों ने नेशनल असेंबली के सचिवालय में नोटिस देकर 14 दिन के भीतर अनिवार्य सत्र बुलाने की मांग की थी, जिसके बाद से ही देश में राजनीतिक अस्थिरता का माहौल गहरा गया है. हालांकि, विपक्ष की तरफ से दी गई समय सीमा के तीन दिन बाद 25 मार्च को सत्र बुलाया गया था, लेकिन स्पीकर ने प्रस्ताव को पेश करने की अनुमति देने से इनकार कर दिया था. विपक्षी दलों का आरोप है कि प्रधानमंत्री इमरान खान की सरकार देश में आर्थिक संकट और बढ़ती महंगाई के लिए जिम्मेदार है इसलिए उन्हें कुर्सी पर रहने का कोई हक नहीं है. Live TV

No-confidence motion introduced in Pakistan’s Parliament, countdown begins!

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *