Type to search

Noida के डीएम सुहास एलवाई टोक्यो ओलंपिक में खेलेंगे, बैडमिंटन में वर्ल्ड रैंकिंग 3 पर है सुहास

खेल देश

Noida के डीएम सुहास एलवाई टोक्यो ओलंपिक में खेलेंगे, बैडमिंटन में वर्ल्ड रैंकिंग 3 पर है सुहास

Share
Suhas LY

जापान की राजधानी टोक्यो में 24 अगस्त से शुरू होने वाले पैरालंपिक खेलों में गौतमबुद्ध नगर के डीएम सुहास एलवाई भाग लेंगे। उनका ओलंपिक के लिए गुरुवार को चयन हो गया है। वह दुनिया में तीसरे नंबर के बैडमिंटन खिलाड़ी हैं। सुहास एलवाई 2007 बैच के आईएएस अफसर हैं। एक आम खिलाड़ी से इतर सरकारी फाइलों से जूझने वाले अफसर के लिए राज्य या बहुत ज्यादा राष्ट्रीय स्तर तक खेल पाना ही संभव हो पता है, लेकिन प्रदेश के आईएएस अफसर और गौतमबुद्ध नगर के डीएम सुहास एलवाई ने इतिहास रचते हुए टोक्यो पैरालंपिक गेम्स के लिए अपना टिकट कटा लिया है। 

सुहास एलवाई ने कहा, “मैं फिर सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की पुरजोर कोशिश करूंगा। इस बार फिर स्वर्ण पदक हासिल करना मेरा लक्ष्य है।” साल 2018 में हुए पैरा ओलंपिक में भी सुहास ​एलवाई ने स्वर्ण पदक हासिल किया था। वह जकार्ता पैरा एशियन गेम्स-2018 में कांस्य पदक विजेता पुरुष टीम में शामिल थे। 2017 में टोक्यो में हुए जापान ओपन पैरा बैडमिंटन टूर्नामेंट में उपविजेता रहे थे, जबकि युगल एसएल-4 वर्ग में कांस्य पदक जीता था।

सुहास लालिनाकेरे यतिराज (सुहास एलवाई) को बीडब्ल्यूएफ (बैडमिंटन वर्ल्ड फेडरेशन) के ज़रिए पैरा ओलंपिक के लिए बैडमिंटन के खेल में भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए चुना गया है. BWF ने विश्व रैंकिंग और प्रदर्शन के आधार पर BAI और PCI India को आमंत्रण भेजा है।

सुहास लालिनाकेरे यतिराज का जन्म कर्नाटक के हासन में यतिराज एलके और जयश्री सीएस के घर हुआ था। प्रारंभिक स्कूली शिक्षा मांड्या जिले के पास डूड्डा में हुई। उनके पिता सरकारी कर्मचारी थे, इसलिए उन्हें अलग-अलग जगहों पर अपनी पोस्टिंग के दौरान पिता के साथ घूमना-फिरना पड़ता था। उन्होंने अपनी अधिकांश माध्यमिक शिक्षा डीवीएस स्वतंत्र कॉलेज शिवमोग्गा कर्नाटक में की। उन्होंने 2004 में राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान सुरथकल कर्नाटक से कंप्यूटर विज्ञान और इंजीनियरिंग शाखा में विशिष्ट योग्यता के साथ प्रथम श्रेणी में स्नातक की उपाधि प्राप्त की।

सुहास की शादी ऋतु सुहास से हुई है। वह मिसेज इंडिया 2019 प्रतियोगिता की विनर रह चुकी हैं। ऋतु गाजियाबाद की अपर जिलाधिकारी हैं। वह एक पीसीएस अधिकारी हैं। उनकी बेटी सानवी 5 साल की है और बेटा विवान 2 साल का है। उनकी पत्नी को भी आम चुनावों में मतदाता जागरूकता में उत्कृष्ट कार्य के लिए सम्मानित किया गया है।


Share This :
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Join #Khabar WhatsApp Group.