Type to search

गर्मी से बेहाल उत्तर भारत को जल्द मिलेंगी राहत! मुंबई पहुंचा मानसून

देश

गर्मी से बेहाल उत्तर भारत को जल्द मिलेंगी राहत! मुंबई पहुंचा मानसून

Share
Monsoon

उत्तर भारत में बढ़ती गर्मी का प्रकोप लगातार जारी है. राजधानी दिल्ली सहित पूरे उत्तर भारत में गर्मी से लोग बदहाल हैं. मौसम विभाग के मुताबिक अगले 24 घंटों के बाद कुछ राहत की उम्मीद की जा सकती है. राष्ट्रीय राजधानी में शनिवार को न्यूनतम तापमान 29.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो कि सामान्य से दो डिग्री ज्यादा है. इसके साथ ही भारत मौसम विज्ञान विभाग ने आंशिक रूप से बादल छाये रहने, बिजली कड़कने और आंधी का पूर्वानुमान जताया है. मौसम विभाग कहा कि अधिकतम तापमान 43 डिग्री सेल्सियस रहने की उम्मीद है।

स्काईमेट वैदर की रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली, हरियाणा, उत्तर पश्चिमी राजस्थान और हिमाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों में लू चल रही है. आईएमडी के अनुसार, दिल्ली-एनसीआर और उत्तर पश्चिमी भारत के कुछ हिस्सों में सप्ताह के अंत में अधिकतम तापमान कुछ डिग्री कम हो सकता है लेकिन 15 जून तक कोई बड़ी राहत मिलने की उम्मीद नहीं है. दिल्ली में सुबह नौ बजे वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) “खराब” श्रेणी में 315 दर्ज किया गया.

वहीं, हरियाणा में गर्मी की तपीश के बढ़ने का सिलसिला जारी है, लेकिन उम्मीद आज और कल कुछ राहत मिलने की है. पंजाब में बनने वाले साइक्लॉनिक सरकुलेशन से कुछ राहत मिल सकती है. हिसार में आज फिर तामपान 44 डिग्री के आस—पास पहुंच गया है। इससे पहले कल तापमान 46 डिग्री के आस—पास था.वहीं, राजस्थान में भी लोग भीषण गर्मी से परेशान हैं. इस बीच मौसम विभाग ने शनिवार से कई जिलों में प्री मानसून की बारिश की चेतावनी जारी की गई है. मौसम विभाग के अनुसार भीषण गर्मी से अगले कुछ दिनों में राहत मिलने की संभावना है. इस दौरान उदयपुर और कोटा संभाग के अधिकतर हिस्सों में प्री मानसून की बारिश लोगों को गर्मी से राहत दे सकती है. 20 या 21 जून तक मानसून राजस्थान में दस्तक दे सकती है.

वहीं दक्षिण-पश्चिम मानसून (South-West monsoon) मुंबई और उसके आस-पास इलाके में पहुंच गया है. इसकी जानकारी मौसम विभाग ने दी है. आईएमडी ने कहा कि शनिवार शाम तक मुंबई और उसके आस-पास इलाकों में मानसून की बारिश हो सकती है.

North India suffering from heat will get relief soon! Monsoon reaches Mumbai

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *