Type to search

Omicron : बेंगलुरु, जयपुर और मुंबई जाना है, तो इन बातों का रखें ध्यान

जरुर पढ़ें देश

Omicron : बेंगलुरु, जयपुर और मुंबई जाना है, तो इन बातों का रखें ध्यान

Share

ओमीक्रॉन के मामले (Omicron Variant Cases) अचानक से पूरे विश्व में बढ़ने लगे हैं. विशेषज्ञों की राय है कि इसे रोकना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है. इंडियन मेडिकल एसोशिएसन के वित्त सचिव डॉक्टर अनिल गोयल ने बताया कि इसे रोकने की बात करना बेमानी होगा. अधिक जरूरी बात ये है कि किस तरीके से इसके इलाज और दूसरे पक्षों पर ध्यान दिया जाए.

एम्स में पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट के प्रोफेसर डॉक्टर संजय राय ने कहा है कि अभी वक्त आ गया है इस बात पर ध्यान देने का कि हमारे हॉस्पिटल इंफ्रास्ट्रक्चर को कैसे दुरुस्त किया जाए. बजाए इसके कि वायरस की प्रकृति क्या है. ओमीक्रॉन कोरोना वेरिएंट के मामले अब भारत में भी हैं. वहीं जिन-जिन देशों में कोरोना का ये नया वेरिएंट मिला है वहां हफ्ते भर के भीतर मामले तेज़ी से बढ़े हैं. सबसे पहले इस नए वेरिएंट को रिपोर्ट करने वाले देश दक्षिण अफ्रीका में तो पिछले हफ्ते से इस हफ्ते 388% कोरोना के ज़्यादा मामले रिपोर्ट हुए हैं.

केंद्र सरकार ने ओमीक्रोन संक्रमण को देखते हुए राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के लिए गाइडलाइन्स जारी की है। गृह मंत्रालय ने कोरोना से जुड़ी गाइलाइन्स की समय सीमा को बढ़ाकर अब 31 दिसंबर तक कर दिया है। बेंगलुरु में दो लोगों में ओमीक्रॉन की पुष्टि के बाद जयपुर में भी अफ्रीका से लौटे 4 लोग संदिग्ध हैं। मुंबई, बेंगलुरु, जयपुर, चेन्नै जा रहे हैं, तो इन बातों का ख्याल रखें।

बेंगलुरु –

  • कर्नाटक की राजधानी में 7 दिन का क्वारंटीन फिर जीनोम सिक्वेंसिंग होगा।
  • बेंगलुरु आने वाले यात्रियों को एयरलाइनों द्वारा सूचित किया जाएगा कि वे आगमन के बाद टेस्ट कराएंगे। यदि रिपोर्ट पॉजिटिव आती है तो उन्हें अलग कर दिया जाएगा।
  • जोखिम वाले देशों के सभी यात्रियों को सात दिनों के लिए होम क्वारंटाइन से गुजरना होगा। इसके बाद आठवें दिन फिर से टेस्ट किया जाएगा।
    यदि परिणाम पॉजिटिव आते हैं, तो नमूने जीनोमिक सिक्वेंसिंग के लिए भेजे जाएंगे।
  • ऐसे पॉजिटिव मामलों के संपर्कों को संस्थागत क्वारंटाइन या कड़ाई से निगरानी वाले होम क्वारंटाइन के तहत रखा जाएगा।
  • पांच साल से कम उम्र के बच्चों को आगमन से पहले और बाद के टेस्ट दोनों से छूट दी गई है।

मुंबई –

  • मुंबई आने पर तीन बार आरटी-पीसीआर टेस्ट होगा
  • कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन को देखते हुए हाई रिस्क देशों से आने वाले सभी यात्रियों के लिए RT-PCR टेस्ट अनिवार्य है।
  • इसके अलावा प्रभावित देशों से आने वालों लोगों के लिए 7 दिन का इंस्टीट्यूशन क्वारंटीन अनिवार्य है।
  • विदेश से आने के दूसरे, चौथे और सातवें दिन RT-PCR टेस्ट कराना अनिवार्य है।
  • आखिरी टेस्ट नेगेटिव आने पर मुंबई आने वाले यात्री को 7 दिन होम क्वारंटीन रहना होगा।
  • बिना जोखिम वाले देशों से आने वालों के लिए भी आने पर आरटी-पीसीआर और 14 दिन का होम क्वारंटीन अनिवार्य है।

जयपुर –

  • जयपुर एयरपोर्ट पर यात्रियों की जांच की जाएगी।
  • विदेश से आ रहे यात्रियों की 16 दिनों तक निगरानी की जाएगी।
  • रैपिड आरटी-पीसीआर कोविड-19 टेस्ट सुविधा और सैंपल प्रोसेसिंग लैब तैयार किया गया है।
  • सभी जिला प्रशासन की तरफ से कोविड वैक्सीन की डोज के लिए कैम्पेन चलाया जा रहा है।
  • मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, छत्तीसगढ़, गुजरात, केरल, बिहार समेत अन्य राज्यों में विदेश से आने वाले यात्रियों की पहचान की जा रही है। एयरपोर्ट पर कोविड गाइडलाइन्स का अधिक कड़ाई से पालन किया जा रहा है। सभी यात्रियों के लिए कोविड टेस्ट रिपोर्ट जरूरी है। यात्रियों के नेगेटिव पाए जाने पर भी 7 दिन का होम आइसोलेशन अनिवार्य किया गया है।

Omicron: If you want to go to Bangalore, Jaipur and Mumbai, then keep these things in mind

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *