Type to search

इंदौर में सामने आए ओमीक्रोन नए स्ट्रेन के केस

जरुर पढ़ें देश

इंदौर में सामने आए ओमीक्रोन नए स्ट्रेन के केस

Share

मध्यप्रदेश के इंदौर में कोविड-19 महामारी की तीसरी लहर के जोर पकड़ने के बीच एक निजी चिकित्सा संस्थान की प्रयोगशाला की जांच में पिछले 18 दिन के दौरान कोरोना वायरस के ओमीक्रोन स्वरूप (Omicron) के ‘BA.2’ उप-वंश (सब लीनिएज) के 21 मामले मिले हैं। इस उप-वंश से संक्रमित मरीजों में छह बच्चे शामिल हैं।

शहर के ‘श्री अरबिंदो इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज’ के संस्थापक अध्यक्ष विनोद भंडारी ने बताया, ‘केंद्र सरकार की मान्यताप्राप्त हमारी मॉलिक्यूलर वायरोलॉजी डायग्नोस्टिक एंड रिसर्च लैब में कोरोना वायरस के ओमीक्रोन स्वरूप के बीए.2 उप-वंश के 21 मामले मिले हैं। ये मामले मिलने की शुरुआत छह जनवरी से हुई है।’ उन्होंने बताया कि ओमीक्रोन वैरियंट के ‘बीए.2’ उप-वंश के 21 मामलों में से छह मरीजों के फेफड़ों पर एक प्रतिशत से लेकर 50 प्रतिशत तक असर देखने को मिला है।

भंडारी ने बताया कि इन 21 मरीजों में से तीन अस्पताल में भर्ती हैं जबकि 18 अन्य को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है। उन्होंने यह भी बताया कि इन 21 मरीजों में शामिल 15 वयस्क कोविड-19 रोधी टीके की दोनों खुराकें पहले ही ले चुके थे। इसका संक्रमण मरीज के फेफड़ों को सबसे ज्यादा प्रभावित करता है नए आए मरीजों के फेफड़ों में भी 5 से 40 प्रतिशत तक इंफेक्शन मिला है, इसे लेकर इंदौर स्वास्थ्य विभाग भी चिंता जाहिर कर रहा है। भंडारीके मुताबिक फेफड़ों में इन्फेक्शन होना चिंता की बात है और ऐसे लोग ज्यादा सुरक्षित हैं, जिन्होंने वैक्सीन के दोनों डोज लगवा लिए थे।

भंडारी ने कहा, ‘हम सभी पात्र लोगों से अपील करते हैं कि वे महामारी से बचाव के लिए टीके की एहतियाती खुराक जल्द से जल्द लें।’ गौरतलब है कि इंदौर, प्रदेश में कोविड-19 से सबसे ज्यादा प्रभावित जिला है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, इंदौर जिले में 24 मार्च 2020 से लेकर अब तक महामारी के कुल 1,86,216 मरीज मिले हैं जिनमें से 1,409 संक्रमितों की इलाज के दौरान मौत हो चुकी है।

Omicron new strain cases surfaced in Indore

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *