Type to search

झारखंड में बाइक सवारों के लिए सस्ता हुआ पेट्रोल, लेकिन पेट्रोलियम कंपनियों से कोई राहत नहीं

कारोबार जरुर पढ़ें देश

झारखंड में बाइक सवारों के लिए सस्ता हुआ पेट्रोल, लेकिन पेट्रोलियम कंपनियों से कोई राहत नहीं

Share

ईंधन की बढ़ती कीमतों से नागरिकों को राहत देने के लिए सरकार अपने करों को कम कर रही है। झारखंड सरकार ने अपने नागरिकों को राहत देने के लिए ईंधन की कीमतों में 25 रुपये की कटौती की है। दूसरी ओर, ईंधन कंपनियों ने अपने ईंधन की कीमतों को लगभग डेढ़ महीने तक स्थिर रखा है। भारतीय ईंधन कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल के लिए आज की दरों की घोषणा की है। पेट्रोल-डीजल की दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया है। कच्चे तेल की अंतरराष्ट्रीय कीमतों में गिरावट से उपभोक्ताओं को कोई फायदा नहीं हुआ है।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 95.41 रुपये प्रति लीटर है, जबकि डीजल की कीमत 86.67 रुपये प्रति लीटर है। इसके अलावा देश के सबसे अहम शहरों में से एक चेन्नई में पेट्रोल 101.40 रुपये प्रति लीटर और डीजल 91.43 रुपये प्रति लीटर पर बिक रहा है. कोलकाता में डीजल की कीमत 89.79 रुपये और पेट्रोल की कीमत 104.67 रुपये है।

अंतरराष्ट्रीय बाजारों में गिरावट
नाइमेक्स और ब्रेंट क्रूड पर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में थोड़ी गिरावट आई। नाइमेक्स क्रूड 0.06 प्रतिशत गिरकर 76.50 प्रति बैरल पर आ गया। ब्रेंट क्रूड 0.05 फीसदी की गिरावट के साथ 79.18 प्रति बैरल पर था।

झारखंड ने ईंधन की कीमतों में की कटौती, लेकिन…
केंद्र सरकार ने ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी से प्रभावित लोगों को राहत देने के लिए करों को कम करके पेट्रोल और डीजल की दरों में कुछ हद तक कमी की है। केंद्र के फैसले के बाद, कुछ राज्यों ने भी अपने करों को कम किया और ईंधन की कीमतों में कमी की। झारखंड में भी, हेमंत सोरेन सरकार ने अपने दो साल के कार्यकाल की समाप्ति से पहले पेट्रोल की कीमतों में 25 रुपये प्रति लीटर की कमी करने का फैसला किया है। झारखंड सरकार की योजना के तहत मध्यम व गरीब वर्ग दोपहिया वाहनों के लिए अधिकतम 10 लीटर ईंधन खरीद सकेगी। ईंधन की खरीद के बाद ईंधन कटौती की राशि सीधे बैंक खाते में जमा की जाएगी। यह योजना 26 जनवरी से शुरू होगी।

Petrol becomes cheaper for bike riders in Jharkhand, but no relief from petroleum companies

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *