Type to search

करारा जवाब मिलेगा – मोदी

देश बड़ी खबर

करारा जवाब मिलेगा – मोदी

PM Modi and his 'Man ki baat'
Share on:

सीमा पर तनाव और कोरोना संकट के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने एक बार फिर रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ (Mann Ki Baat) के जरिए देशवासियों को संबोधित किया। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना वायरस की महामारी से निबटने के साथ-साथ हमारी जमीन पर बुरी नजर डालने वालों को भी करारा जवाब दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि भारत दोस्ती निभाना जानता है, तो आंखों में आंखें डालकर जवाब देना भी जानता है।

‘मन की बात’ की 10 अहम बातें

  1. कोरोना के संकट काल में देश लॉकडाउन से बाहर निकल आया है और अब हम अनलॉक के दौर में हैं। इस समय हमें दो बातों का बहुत ध्यान रखना होगा – एक, कोरोना को हराना और दूसरा, अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाना
  2. भारत का संकल्प है- भारत के स्वाभिमान और संप्रभुता की रक्षा। भारत का लक्ष्य है- आत्मनिर्भर भारत। भारत की परंपरा है- भरोसा और मित्रता। भारत का भाव है- बंधुता। हम इन्हीं आदर्शों के साथ आगे बढ़ते रहेंगे।
  3. हमारा हर प्रयास सीमाओं की रक्षा के लिए देश की ताकत बढ़ाने में, देश को और अधिक सक्षम बनाने में, देश को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में होना चाहिए। यही हमारे शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि भी होगी।
  4. लद्दाख में भारत की भूमि पर आंख उठाकर देखने वालों को करारा जवाब मिला है। भारत, मित्रता निभाना जानता है, तो आंख में आंख डालकर देखना और उचित जवाब देना भी जानता है।
  5. सैकड़ों सालों तक अलग-अलग आक्रांताओं ने भारत पर हमला किया, लोगों को लगता था कि भारत की संरचना ही नष्ट हो जाएगी, लेकिन इन संकटों से भारत और भी बेहतर होकर सामने आया।
  6. हमारे कुछ पड़ोसियों द्वारा जो हो रहा है, देश उन चुनौतियों से भी निपट रहा है। एक-साथ इनती आपदाएं, इस स्तर की आपदाएं, बहुत कम ही देखने-सुनने को मिलती हैं।
  7. कई राज्यों में हमारे किसान भाई–बहन टिड्डी दल के हमले से परेशान हैं और कुछ नहीं, तो देश के कई हिस्सों में छोटे-छोटे भूकंप रुकने का ही नाम नहीं ले रहे।
  8. एक साल में एक चुनौती आए या पचास, नंबर कम-ज्यादा होने से वो साल खराब नहीं हो जाता। भारत का इतिहास ही आपदाओं और चुनौतियों पर जीत हासिल कर और ज्यादा निखरकर निकलने का रहा है।
  9. इसी साल देश नये लक्ष्यों को प्राप्त करेगा, नई उड़ान भरेगा, नई ऊंचाइयों को छुएगा। मुझे, 130 करोड़ देशवासियों की शक्ति पर पूरा विश्वास है।
  10. इस बात को हमेशा याद रखिए कि अगर आप मास्क नहीं पहनते हैं या दो गज की दूरी का पालन नहीं करते हैं, तो आप अपने साथ-साथ दूसरों को भी जोखिम में डाल रहे हैं।

प्रधानमंत्री हर महीने के आखिरी रविवार को ‘मन की बात’ के जरिए देशवासियों को संबोधित करते हैं। इससे पहले 31 मई को मन की बात में पीएम मोदी ने कोरोना काल में योग को बेहद जरुरी बताया था। कोरोना काल में पिछले कुछ संबोधनों में पीएम हर बार लोगों से सामाजिक दूरी और मास्क पहनने की अपील करते रहे हैं।

Shailendra

Share on:
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *