Type to search

प्रणब मुखर्जी की और बिगड़ी तबीयत

देश

प्रणब मुखर्जी की और बिगड़ी तबीयत

Share
Pranab Mukherjee

भारत (India) के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (Former President Pranab Mukherjee) काफी दिनों से बीमार हैं और उनका कोरोना (Corona) संक्रमित होने के बाद अस्पताल (Hospital) में एडमिट कराया गया था। कुछ दिनों पहले उनकी हालत स्थिर बताई जा रही थी लेकिन अब सोमवार को उनकी तबियत बिगड़ गई है। आर्मी अस्पताल (Army Hospital) में एडमिट प्रणव मुखर्जी स्वास्थ्य में गिरावट दर्ज की गई है। आर्मी अस्पताल का कहना है कि प्रणब मुखर्जी को फेफड़ों का इंफेक्शमन (Lung Infection) हुआ था जिसके कारण अब वो सेप्टिक शॉक में हैं। उनका इलाज वेंटिलेटर पर लगातार चल रहा है। प्रणब गहरे कोमा में हैं।

बता दें कि प्रणब मुखर्जी ने 10 अगस्‍त को ट्वीट कर खुद के कोरोना संक्रमित होने की जानकारी दी थी। उन्‍होंने कहा था, ‘अन्य कारणों से अस्पताल गया था जहां पर आज कोविड-19 जांच में संक्रमित होने की पुष्टि हुई। मैं अनुरोध करता हूं कि जो लोग भी गत एक हफ्ते में मेरे संपर्क में आए हैं, वे खुद पृथक-वास में चले जाएं और कोविड-19 की जांच कराएं.’ प्रणब मुखर्जी 2012 से 2017 तक देश के 13वें राष्ट्रपति रहे।

बता दें कि कुछ दिन पहले पूर्व राष्ट्रपति के फेफड़ों में संक्रमण के बाद उनकी सेहत ज्यादा खराब हो गई थी। विशेषज्ञों की एक टीम लगातार उनकी निगरानी कर रही है। वहीं, देशभर में उनके जल्द स्वास्थ्य होने की कामना की जा रही है।

बता दें कि प्रणब मुखर्जी ने 10 अगस्‍त को ट्वीट कर खुद के कोरोना संक्रमित होने की जानकारी दी थी। उन्‍होंने कहा था, ‘अन्य कारणों से अस्पताल गया था जहां पर आज कोविड-19 जांच में संक्रमित होने की पुष्टि हुई। मैं अनुरोध करता हूं कि जो लोग भी गत एक हफ्ते में मेरे संपर्क में आए हैं, वे खुद पृथक-वास में चले जाएं और कोविड-19 की जांच कराएं.’ प्रणब मुखर्जी 2012 से 2017 तक देश के 13वें राष्ट्रपति रहे।

बता दें कि कुछ दिन पहले पूर्व राष्ट्रपति के फेफड़ों में संक्रमण के बाद उनकी सेहत ज्यादा खराब हो गई थी। विशेषज्ञों की एक टीम लगातार उनकी निगरानी कर रही है। वहीं, देशभर में उनके जल्द स्वास्थ्य होने की कामना की जा रही है।

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *