Type to search

पंजाब : मंत्रियों को बांटे गए मंत्रालय, CM भगवंत मान ही संभालेंगे गृह मंत्रालय

जरुर पढ़ें देश राजनीति

पंजाब : मंत्रियों को बांटे गए मंत्रालय, CM भगवंत मान ही संभालेंगे गृह मंत्रालय

Share

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान की कैबिनेट में एक महिला सहित आम आदमी पार्टी (AAP) के दस विधायकों को शामिल किया गया. इस बीच, उन्होंने सोमवार को मंत्रालयों का बंटवारा किया है, जिसमें सीएम ने खुद अपने पास गृह मंत्रालय रखा है और हरपाल चीमा को राज्य के वित्त मंत्रालय का जिम्मा सौंपा है. वह अब पंजाब का बजट पेश करेंगे. इसके अलावा महत्वपूर्ण शिक्षा मंत्रालय मीत हायर के पास रहेगा और वह शिक्षा मंत्री बनेंगे. डॉ विजय सिंघला को स्वास्थ विभाग की जिम्मेदारी सौंपी गई है.

हरजोत बैंस कानून और टूरिज्म मंत्री होंगे. सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास मंत्री डॉ बलजीत कौर होंगी. बिजली मंत्री हरभजन सिंह को बनाया गया है. लाल चंद को फ़ूड और सप्लाई विभाग दिया गया है. ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्रालय कुलदीप सिंह धालीवाल के पास होगा. लालजीत सिंह भुल्लर परिवहन मंत्री बनाए गए हैं. ब्रम्ह शंकर के पास पानी के साथ-साथ आपदा मंत्रालय होगा.

AAP के दो बार के विधायक कुलतार सिंह संधवां को सोमवार को सर्वसम्मति से 16वीं पंजाब विधानसभा का अध्यक्ष चुना गया. मुख्यमंत्री भगवंत मान ने सोमवार को सदन में संधवां के नाम का प्रस्ताव रखा था. मान ने संधवां को विधानसभा का अध्यक्ष चुने जाने पर बधाई भी दी. उन्होंने अध्यक्ष से सदन की कार्यवाही के सीधे प्रसारण की अनुमति देने का आग्रह भी किया.

AAP के दस विधायकों ने शनिवार को पंजाब के मंत्री के रूप में शपथ ली थी. इनमें हरपाल सिंह चीमा, हरभजन सिंह, डॉ. विजय सिंगला, लाल चंद, गुरमीत सिंह मीत हेयर, कुलदीप सिंह धालीवाल, लालजीत सिंह भुल्लर, ब्रह्म शंकर, हरजोत सिंह बैंस और डॉ. बलजीत कौर शामिल हैं. इससे पहले भगवंत मान ने स्वतंत्रता सेनानी भगत सिंह के पैतृक गांव खटकड़ कलां में एक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी.

कैबिनेट में पार्टी ने मालवा से पांच, माझा से चार और दोआबा क्षेत्र से एक विधायक को प्रतिनिधित्व दिया. इसने उन चार विधायकों को समायोजित किया है जो सुरक्षित निर्वाचन क्षेत्रों दिर्बा, जंडियाला, मलोट और भोआ का प्रतिनिधित्व करते हैं. इसके अलावा चार जाट सिख और दो हिंदू हैं. हालांकि, कांग्रेस के चरणजीत सिंह चन्नी, नवजोत सिंह सिद्धू, शिअद के प्रकाश सिंह बादल और सुखबीर सिंह बादल और पंजाब लोक कांग्रेस प्रमुख अमरिंदर सिंह सहित दिग्गजों को हराने वाले AAP विधायकों को मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिली. आम आदमी पार्टी ने 117 सदस्यीय पंजाब विधानसभा में कांग्रेस, शिरोमणि अकाली दल-बहुजन समाज पार्टी गठबंधन और भारतीय जनता पार्टी-पंजाब लोक कांग्रेस-शिअद (संयुक्त) गठबंधन को पछाड़ते हुए 92 सीटें हासिल कीं हैं.

Punjab: Ministries distributed to ministers, CM Bhagwant Mann will handle Home Ministry

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *