Type to search

RRB-NTPC Protest : FIR दर्ज होने के बाद घबराए खान सर, VIDEO जारी कर प्रदर्शन न करने की अपील

जरुर पढ़ें देश

RRB-NTPC Protest : FIR दर्ज होने के बाद घबराए खान सर, VIDEO जारी कर प्रदर्शन न करने की अपील

Share

छात्र संगठनों ने आज बिहार बंद का ऐलान किया है वहीं पटना के मशहूर टीचर और यूट्यूबर खान सर ने एक वीडियो जारी छात्रों से शुक्रवार को किसी प्रकार का प्रोटेस्ट (RRB-NTPC Protest) या प्रदर्शन नहीं करने की अपील की है. प्रदर्शन के दौरान तोड़फोड़ और आगजनी के मामले में छात्रों को उकसाने के आरोपी खान सर समेत 6 टीचरों पर कानून का शिकंजा कसता नज़र आ रहा है. पटना के पत्रकार नगर थाना में दर्ज FIR में खान सर पर छात्रों को उकसाने के गंभीर आरोप हैं.

FIR दर्ज होने के बाद खान सर अपनी पटना वाली कोचिंग को बंद कर के फरार हैं. बुधवार यानी 26 जनवरी को बिहार के कई जिलों में छात्रों ने स्टेशनों पर उग्र प्रदर्शन किया. कई जगहों पर ट्रेन को आग के हवाले कर दिया गया. इसके बाद खान सर समेत 6 कोचिंग संस्थान संचालक शिक्षकों पर केस दर्ज किया गया, उन्हीं में शामिल खान सर फिलहाल फरार हैं. उन्होंने अपना फोन भी स्विच ऑफ कर लिया है, उनका कोचिंग संस्थान ‘Khan GS Research Centre’ भी बंद पड़ा है. सूत्रों की मानें तो वे अधिवक्ताओं से सलाह-मशवरा कर रहे हैं. वे समझ रहे हैं कि किन धाराओं के तहत दर्ज की गई है प्राथामिकी और इसके क्या नतीजे हो सकते हैं. इन चीजों को समझने के बाद वे न्यायालय में अपील कर सकते हैं.

बता दें कि बिहार में आरआरबी की एनटीपीसी परीक्षा के रिजल्ट को लेकर हंगामा-प्रदर्शन हो रहा है. इस मामले में पटना के पत्रकार नगर थाने में चर्चित कोचिंग संचालक और यूट्यूबर खान सर समेत विभिन्न तरह की प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कराने वाले शिक्षकों पर केस दर्ज किया गया है. भड़काऊ भाषण देने और छात्रों को भड़काने के आरोप में खान सर के अलावा दूसरे शिक्षकों पर भी केस दर्ज किया गया है. 24 जनवरी को राजधानी पटना के राजेंद्र नगर टर्मिनल पर हंगामा करते हुए छात्रों के पकड़े जाने के बाद उनके बयान पर खान सर समेत दूसरे शिक्षकों और 300 से 400 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है.

खान सर ने यह भी कहा कि पूरी की पूरी गलती आरआरबी की है. एनटीपीसी के छात्र अपने लिए कुछ बेहतर होने का इंतजार कर रहे थे. तभी 40 घंटे पहले ग्रुप डी के छात्रों के लिए डबल एग्जाम लेने का फैसला ले लिया गया. खान सर की मानें, तो मामला आगे नहीं बढ़ता अगर छात्रों में भी कोई उनका एक नेता होता जो पूरे आंदोलन का नेतृत्व करता. इस प्रदर्शन में छात्रों का कोई लीडर नहीं होना दुर्भाग्यपूर्ण है. खान सर के मुताबिक, स्टूडेंट्स की मांग रेलवे को पहले ही मांग लेनी चाहिए थी.

28 January Protest Cancel | RRB NTPC

इस बीच कल देर रात करीब सवा ग्यारह बजे खान सर ने अपने यूट्यूब चैनल पर छात्रों के लिए वीडियो संदेश डाला. खान सर ने वीडियो में बार-बार छात्रों से अपील की कि शुक्रवार को कोई छात्र प्रोटेस्ट न करे. खान सर ने कहा कि रेलवे को इंटेलिजेंस से रिपोर्ट मिली है कि गोरखपुर के कुछ छात्र गड़बड़ी कर सकते हैं. खान सर ने कहा कि गोरखपुर के छात्र हम लोगों से अलग नहीं हैं. ऐसे में सभी जिलों के छात्रों से अपील है कि कोई भी सड़क पर न उतरे और किसी प्रकार का प्रोटेस्ट न करे. खान सर ने BJP सांसद और बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी के वीडियो का हवाला देते हुए कहा कि उन्होंने भी रेलमंत्री से बात की है. छात्रों की सभी मांगों पर सहमति बन गई है. छात्रों की 20 गुना रिजल्ट देने और यूनीक नंबर वाली मांग लगभग मान ली गई है. यही नहीं, सीबीटी-2 को भी हटाने पर सहमति बन गई है. खान सर ने कहा कि यह सहमति आरआरबी की तरफ से नहीं हुई है. यह सहमति प्रधानमंत्री की दखल के बाद रेलमंत्री की तरफ से हुई है. रेलमंत्री और प्रधानमंत्री की दखल के बाद काम आसानी से हो रहा है, ऐसे में प्रोटेस्ट करके इस काम को बिगाड़ना नहीं चाहिए.

पिछले 4 दिनों में कई जगहों पर छात्रों ने न सिर्फ ट्रेनों को रोका, बल्कि तोड़फोड़, आगजनी भी की. सरकारी संपत्तियों को नुकसान पहुंचाया और सरकारी काम में बाधा डाली गई. पुलिस वालों पर पथराव किया. इन मामलों में हर जगह पर अलग-अलग FIR दर्ज हुई है. अब तक कुल 22 FIR दर्ज हुए हैं. बिहार रेल पुलिस (GRP) ने कुल 10 FIR दर्ज की है. इनमें अकेले पटना रेल जिला में 5 FIR शामिल है. वहीं, रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स (RPF) ने भी रेलवे की संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के मामले में भी कुल 10 FIR दर्ज की हैं जबकि पटना पुलिस ने कुल 2 FIR दर्ज की हैं.

छात्रों के उपद्रव मामले में पटना रेल पुलिस ने राजेंद्र नगर टर्मिनल, जहानाबाद, गया, आरा और बक्सर को मिलाकर कुल 5 FIR दर्ज की. जबकि, पटना पुलिस ने 2 FIR की. रेल और जिला पुलिस के कुल 7 FIR में 44 नामजद और 2700 अज्ञात छात्र शामिल हैं. इनमें अब तक 25 छात्रों को अलग-अलग जगहों से गिरफ्तार किया गया है. 17 छात्रों को रेल पुलिस ने तो 8 छात्रों को पटना पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा है.

RRB-NTPC Protest: Khan sir panicked after registration of FIR, appealed not to protest by issuing VIDEO

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *