Type to search

आबकारी नीति घोटाले पर घमासान, सिसोदिया से 9 घंटे पूछताछ

देश राजनीति

आबकारी नीति घोटाले पर घमासान, सिसोदिया से 9 घंटे पूछताछ

Share

दिल्ली में नई आबकारी नीति घोटाले को लेकर हंगामा मचा हुआ है. आम आदमी पार्टी (आप) और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) एकदूसरे पर जबरदस्त जुबानी हमला कर रही हैं. दरअसल सोमवार को इस मामले में सीबीआई की ओर से समन मिलने के बाद उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया सोमवार को पूछताछ के लिए सीबीआई ऑफिस पहुंचे थे.

इस दौरान दिल्ली में गहमागहमी मची रही. पूछताछ के बाद उपमुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि आप छोड़ने के लिए मुझ पर दबाव डाला गया. मुझे दिल्ली का मुख्यमंत्री पद पाने या जेल की सजा काटने की पेशकश की गयी. वहीं मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुजरात में जनसभा में बीजेपी पर निशाना साधा, तो वहीं बीजेपी ने भी भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए आप के नेताओं पर हमला बोला. सिसोदिया से सीबीआई में पूछताछ के दौरान आप नेता और कार्यकर्ताओं ने जमकर प्रदर्शन औऱ नारेबाजी की. जानिए इस मामले में अब तक क्या-क्या हुआ.

उन्होंने बताया कि उपमुख्यमंत्री से दिल्ली सरकार की आबकारी नीति, कारोबारी विजय नायर समेत अन्य आरोपियों से उनके संबंध और मामले में तलाशी के दौरान मिले दस्तावेजों के विभिन्न पहलुओं पर नौ घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की. उन्होंने कहा कि बीजेपी कहती है कि आबकारी घोटाला 10,000 करोड़ रुपये का है. मैंने सीबीआई कार्यालय में पाया कि कोई घोटाला नहीं है और मामला फर्जी है. मेरे खिलाफ फर्जी मामला बीजेपी के ऑपरेशन लोटस को दिल्ली में सफल बनाने का षड्यंत्र है.

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि आप छोड़ने के लिए मुझ पर दबाव डाला गया. मुझे दिल्ली का मुख्यमंत्री पद पाने या जेल की सजा काटने की पेशकश की गयी. जब मैंने कहा कि मेरे खिलाफ कोई मामला नहीं है तो मुझे कहा गया कि सत्येंद्र जैन के खिलाफ भी कोई मामला नहीं था लेकिन फिर भी वह जेल में हैं. सिसोदिया ने कहा कि उन्होंने पूछा कि मैं आप में क्यों हूं और मुझे पार्टी छोड़ने के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री पद की पेशकश की.

Ruckus over excise policy scam, Sisodia questioned for 9 hours

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *