Type to search

Russia-Ukraine War : यूक्रेन के सभी लड़ाकू विमान नष्ट, US ने 17000 एंटी टैंक मिसाइलें भेजीं

जरुर पढ़ें दुनिया देश

Russia-Ukraine War : यूक्रेन के सभी लड़ाकू विमान नष्ट, US ने 17000 एंटी टैंक मिसाइलें भेजीं

Share

कीव – रूस और यूक्रेन के बीच चल रही जंग ने ना सिर्फ वहां के नागरिकों को बल्कि पूरी दुनिया के राजनेताओं को भी चिंता में डाल दिया है. जंग में रोज रूस यूक्रेन के अलग अलग शहरों पर मिसाइलों बमों से हमले कर रहा है. इस दौरान कआ लोगों की जान जा चुकी है जबकि लाखों की तादाद में लोग यूक्रेन से पलायन करने पर मजबूर हो गए हैं. बमबारी की वजह से इन्हें निकाला नहीं जा सका. इस बीच, अमेरिका ने यूक्रेन की मदद के लिए 17 हजार एंटी टैंक मिसाइलें भेज दी हैं.

रूसी सेनाओं ने यूक्रेन की राजधानी कीव पर दो तरफ से हमला बोल दिया है. पूर्व की तरफ से रूसी सेनाएं कीव में दाखिल होने के लिए आगे बढ़ रही हैं. वहीं, पश्चिम की तरफ से रूस के सैनिक आम लोगों को निशाना बना रहे हैं. यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की ने रविवार को मदद की अपील करते हुए अमेरिकी सांसदों को भावुक मैसेज भेजकर कहा- हो सकता है कि आप मुझे आखिरी बार जिंदा देख रहे हों.

यूक्रेन के शरणार्थियों की संख्या 15 लाख के पार पहुंचने की उम्मीद है. रूस द्वारा हमले के बाद बड़ी संख्या में लोगों ने देश छोड़ना शुरू कर दिया है. लोगों ने पोलैंड, रोमानिया, स्लोवाकिया और अन्य जगहों पर शरण ली है. यूक्रेन के राष्ट्रपति व्लोदिमीर जेलेंस्की ने शनिवार को अमेरिकी सांसदों के साथ बातचीत के दौरान दावा किया कि रूसी बल यूक्रेन के दो परमाणु संयंत्र पर कब्जा कर चुके हैं और वे तीसरे संयंत्र की ओर बढ़ रहे हैं. जेलेंस्की ने कहा कि मौजूदा समय में माइकोलाइव के उत्तर में करीब 120 किलोमीटर की दूरी पर स्थित युझनौक्रेंस्क परमाणु ऊर्जा संयंत्र खतरे में है.

यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की ने रविवार को मदद की अपील करते हुए अमेरिकी सांसदों को भावुक मैसेज भेजकर कहा- हो सकता है कि आप मुझे आखिरी बार जिंदा देख रहे हों. इसके तुरंत बाद अमेरिका और NATO ने यूक्रेन की मदद के लिए 17 हजार एंटी टैंक मिसाइलें और दूसरे हथियारों की खेप रवाना कर दी.

Russia-Ukraine War: All fighter planes of Ukraine destroyed, US sent 17000 anti-tank missiles

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *