Type to search

Russia-Ukraine War : रूसी फोर्स हेडक्वार्टर के डिप्टी चीफ मेजर की मौत : यूक्रेन का बड़ा दावा

जरुर पढ़ें दुनिया देश

Russia-Ukraine War : रूसी फोर्स हेडक्वार्टर के डिप्टी चीफ मेजर की मौत : यूक्रेन का बड़ा दावा

Share

कीव – रूस और यूक्रेन के बीच 24 फरवरी को शुरू हुआ युद्ध (Russia Ukraine War) अब भी जारी है. यूक्रेन की खूबसूरती मिट चुकी है और उसके कई शहर नरक बन गए हैं. शुक्रवार को युद्ध का 16वां दिन है, लेकिन शांति का कोई कतरा नजर नहीं आ रहा. रूस के सैनिक (Russian Army) राजधानी कीव (Kyiv) को चारों ओर से घेर रहे हैं लेकिन वो अभी तक शहर में दाखिल नहीं हो सके हैं.

रूस ने यूक्रेन के कई बड़े शहरों को अपने नियंत्रण में ले लिया है. इस बीच यूक्रेन के राष्ट्रपति व्लोदिमीर जेलेंस्की संकट के बीच वैश्विक नेताओं संग हो रही बातचीत को लेकर सोशल मीडिया पर लगातार जानकारी दे रहे हैं. जंग के बीच यूक्रेन की तरफ से रूसी सेना के बड़े अधिकारी को मारने का दावा किया गया है. कहा गया है कि रूसी फोर्स हेडक्वार्टर के डिप्टी चीफ मेजर Andriy Burlakov को Kherson में मार गिराया गया है. वह रिजिमेंट चीफ ऑफ स्टाफ भी थे. उनपर युद्ध के दौरान कई अहम जिम्मेदारियां थीं, जिसमें तोपों के लिए सैनिकों का परीक्षण शामिल था.

बता दें कि युद्ध के 16 दिनों में तीसरे बड़े रूसी अफसर की मौत हुई है. इससे पहले रूसी सेना के मेजर जनरल विताली गेरासिमोव, रूस के मेजर जनरल एंड्री सुखोवेत्स्की को मार गिराया गया था. युद्ध में यूक्रेनी सेना लगातार दावे कर रही है कि उसने रूस को काफी नुकसान पहुंचाया है. कहा गया है कि अबतक रूस के 12 हजार से ज्यादा जवानों को मार गिराया गया है. वहीं 57 प्लेन, 353 टैंक, 83 हेलिकॉप्टर भी नष्ट करने का दावा है. इसके अलावा 125 तोप, 1165 सैन्य वाहनों को भी क्षतिग्रस्त करने की बात कही गई है.

(यूएस) सीनेट ने यूक्रेन और उसके यूरोपीय सहयोगियों के लिए सैन्य और मानवीय सहायता के लिए 13.6 बिलियन डॉलर के इमरजेंसी पैकेज को मंजूरी दे दी है. रूस ने खार्किव इंस्टीट्यूट पर बम गिरा दिया है. यहां न्यूक्लियर रिएक्टर पर काम हो रहा था. यह केंद्र पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया है, जिससे कई लैब्स को नुकसान पहुंचा है.

Russia-Ukraine War: Death of Deputy Chief Major of Russian Force Headquarters: Ukraine’s big claim

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *