Type to search

Ghazipur Mandi में IED की बरामदगी, चुनावी राज्य थे निशाने पर

जरुर पढ़ें देश राजनीति

Ghazipur Mandi में IED की बरामदगी, चुनावी राज्य थे निशाने पर

Share

गाजीपुर फूल मंडी में गत शुक्रवार को निष्क्रिय आईईडी के बारे में सुरक्षा एजेंसियों ने बड़ा खुलासा किया है। सुरक्षा एजेंसियों का कहना है कि आईईडी की बरामदगी से एक बड़ी साजिश का पता चला है। इस विस्फोटक का इस्तेमाल केवल दिल्ली में नहीं बल्कि चुनाव का सामने करने जा रहे राज्यों में भी होना था। दहशतगर्दों की मंशा चुनाव से ठीक पहले माहौल को बिगाड़ना है।

कुछ दिनों पहले पंजाब में भी हथियार एवं गोला-बारूद की एक बड़ी खेप बरामद हो चुकी है। बता दें कि गत शुक्रवार सुबह 10.30 बजे के करीब गाजीपुर फूल मंडी के गेट पर एक लावारिस बैग में विस्फोटक मिलने से हड़कंप मच गया। सूचना पर दिल्ली पुलिस मौके पर पहुंची और मंडी को खाली कराया। इसके बाद वहां एनएसजी की टीम बुलाई गई फिर आठ फिट गहरा गड्ढा खोदकर नियंत्रित विस्फोट के जरिए आईईडी को निष्क्रिय किया गया। अब तक की जांच में पता चला है कि विस्फोटक की मात्रा करीब तीन किलो थी। गत सोमवार को एनएसजी ने बताया कि आरडीएक्स एवं अमोनिया नाइट्रेट मिलाकर विस्फोटक तैयार किया गया था। इसमें मोबाइल अथवा घड़ी के जरिए विस्फोट कराने की साजिश थी।

रिपोर्टों में बताया गया है कि आतंकवादी संगठन अल-कायदा से जुड़े संगठन अंसार गजवात उल हिंद ने गाजीपुर मंडी में आईईडी रखने की जिम्मेदारी ली है लेकिन दिल्ली पुलिस ने उसके इस दावे को खारिज किया है। दिल्ली पुलिस की एटीएस टीम का कहना है कि वह आतंकवादी समूह के दावों की अभी भी जांच कर रही है। एटीएस का कहना है कि इस संगठन ने ही विस्फोटक रखे थे अभी इसके प्रमाण नहीं मिले हैं।

गणतंत्र दिवस समारोह से ठीक पहले दिल्ली के इलाके में विस्फोटक मिलने से सुरक्षा एजेंसियों सतर्क है। विस्फोटक की बरामदगी के बाद दिल्ली पुलिस विशेष सावधानी बरत रही है। राजपथ के आस-पास कई स्तरों में सुरक्षा की गई है। यहां चेहरा पहचानने वाले उपकरण एवं 300 से ज्यादा सीसीटीवी लगाए गए हैं।

Seizure of IED in Ghazipur Mandi, election states were the target

Share This :
FacebookTwitterWhatsAppTelegramShare
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *