Type to search

हैरान करने वाला सच! केरल में कम उम्र में मां बन रहीं लड़कियां

जरुर पढ़ें देश

हैरान करने वाला सच! केरल में कम उम्र में मां बन रहीं लड़कियां

Share

केरल सरकार की एक रिपोर्ट के मुताबिक राज्य में साल 2019 में 4 प्रतिशत से ज्यादा महिलाएं कम उम्र में मां बनीं. केरल सरकार की एक रिपोर्ट से पता चलता है कि 2019 में बच्चों को जन्म देने वाली माओं में से 4.37 प्रतिशत 15-19 आयु वर्ग की थीं. इनमें से कुछ माओं ने तो मात्र 19 साल की उम्र में दूसरे, तीसरे बच्चे को जन्म दिया था.

ये आंकड़े जो महिला सशक्तिकरण और शिक्षा में प्रगति के बावजूद केरल में बाल विवाह की व्यापकता को साफ-साफ दिखाते हैं. केरल के आर्थिक और सांख्यिकी विभाग ने सितंबर में यह सांख्यिकी रिपोर्ट प्रकाशित की थी. इस रिपोर्ट के मुताबिक 15 से 19 साल की उम्र साल में मां बनी 20,995 महिलाओं में से 15,248 शहरी क्षेत्रों और 5,747 ग्रामीण पृष्ठभूमि से थीं. 20 साल से कम उम्र में मां बनी महिलाओं में से 316 ने अपने दूसरे बच्चे को जन्म दिया, तो वहीं 59 ने अपने तीसरे बच्चे और 16 महिलाओं ने अपने चौथे बच्चे को जन्म दिया.

कम उम्र में मां बनी इन लड़कियों के समूह का धर्म के आधार पर विभाजन करने पर पता चला कि इनमें से 11,725 ​​मुस्लिम, 3,132 हिंदू और 367 ईसाई महिलाएं थीं. इन आंकड़ों से एक और आश्चर्यजनक बात सामने आई कि इनमें से अधिकतर माताएं शिक्षित थीं. इनमें से 16,139 ने 10वीं कक्षा पास की थी लेकिन स्नातक नहीं थीं. वहीं केवल 57 निरक्षर थीं. 38 महिलाओं ने प्राथमिक स्तर की शिक्षा प्राप्त की थी और 1,463 ने प्राथमिक स्तर से 10वीं के बीच तक पढ़ाई की थी. वहीं दूसरी ओर 3,298 माताओं की शिक्षा के बारे में कोई जानकारी नहीं थी. आंकड़ों के मुताबिक साल 2019 में दर्ज 109 मैटरनल डेथ में से, केवल दो 19 वर्ष से कम उम्र की थीं.

Shocking truth! Girls becoming mothers at an early age in Kerala

Share This :
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *